लाइव टीवी

मुंगेर में संविधान निर्माता अंबेडकर की प्रतिमा पर कालिख पोती, पुलिस जांच में जुटी

News18 Bihar
Updated: October 5, 2019, 12:06 PM IST
मुंगेर में संविधान निर्माता अंबेडकर की प्रतिमा पर कालिख पोती, पुलिस जांच में जुटी
मुंगेर में असामाजिक तत्वों ने डॉ. आंबेडकर की प्रतिमा पर कालिख पोती,

शुक्रवार की रात कुछ असमाजिक तत्वों ने आपसी सद्भाव को खत्म करने और समाज में वैमनस्यता फैलाने के इरादे से डॉ. अंबेडकर की मूर्ति पर कालिख पोत दी. शनिवार सुबह लोगों को इस बात का पता चला तो वो आक्रोशित हो गए.

  • Share this:
मुंगेर. बिहार के मुंगेर में असामाजिक तत्वों द्वारा डॉ. भीमराव अंबेडकर (Dr. Bhim Rao Ambedkar) की प्रतिमा पर कालिख पोतने और अपशब्द लिखने का मामला सामने आया है. संविधान निर्माता (Constitution maker) की प्रतिमा का अपमान करने को लेकर स्थानीय लोगों में आक्रोश है. यह घटना हवेली खड़गपुर अनुमंडल के बढ़ौना पासवान टोला की है. इसकी सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची है और जांच में जुट गई. प्रशासन (Administration) ने पोती गई कालिख को साफ करवा दिया है.

सद्भाव खत्म करने की साजिश के तहत कालिख पोती
बताया जा रहा है कि शुक्रवार की रात कुछ असमाजिक तत्वों ने आपसी सद्भाव को खत्म करने और समाज में वैमनस्यता फैलाने के इरादे से डॉ. अंबेडकर की मूर्ति पर कालिख पोत दी. शनिवार सुबह लोगों को इस बात का पता चला तो वो आक्रोशित हो गए.

मामले की जांच में जुटी पुलिस

स्थानीय विजय पासवान और अरुण पासवान ने बताया कि अंबेडकर की मूर्ति काफी पहले ग्रामीणों के द्वारा लगवाई गई थी. शनिवार सुबह इस पर कालिख पुती हुई देखकर गांव के मुखिया और शामपुर थाना को सूचना दी गई. इसके बाद सभी पहुंच गए और मामले की जांच में जुट गए. पुलिस ने ग्रामीणों के सहयोग से प्रतिमा को साफ करवाया.

पुसिस अज्ञात लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कर कार्रवाई की बात कह रही है.

(रिपोर्ट- अरुण कुमार शर्मा)
Loading...

ये भी पढ़ें- 

बिहार सरकार का फैसला: जमाबंदी-होल्डिंग के बाद ही जमीन बेचने और दान का अधिकार

अनियंत्रित होकर गड्ढे में बस पलटने से कई यात्री घायल, कंडक्टर की मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मुंगेर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 5, 2019, 11:35 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...