मरकज में शामिल हुए शख्स ने 12 लोगों में फैलाया कोरोना, संक्रमित ने कई जिलों का किया था दौरा

मुंगेर में एक व्यक्ति द्वारा 12 लोगों में कोरोना फैला चुका है. (कॉन्सेप्ट इमेज)

सिविल सर्जन पुरोषत्तम कुमार के अनुसार बिहारशरीफ में आयोजित तब्लीगी मरकज में शामिल होकर वह फारबिसगंज, सहरसा, अररिया, शेखपुरा और नवादा होते हुए छिपते-छिपाते मुंगेर पहुंचे थे.

  • Share this:
मुंगेर. जिले में 15 अप्रैल को जमालपुर के एक 60 वर्षीय बुजुर्ग के कोरोना पॉजिटिव (Corona positive) होने का मामला आने के बाद से ही स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह अलर्ट पर है. दरअसल नालंदा के तब्लीगी मरकज (Nalanda's Tabligi Markaj) में शामिल होने वाले इस व्यक्ति ने एक तो मरकज में शामिल होने की जानकारी प्रशासन से छिपाई. इसके साथ ही उनके परिवार ने भी प्रशासन को कोई सूचना नहीं दी. यही वजह है कि एक व्यक्ति की वजह से उनके ही परिवार के 9 सदस्य कोरोना संक्रमित हो चुके हैं. इनमें छह महीने की एक बच्ची और दो साल का एक बच्चा शामिल है. कुल मिलाकर इस एक व्यक्ति से अब तक 13 लोग संक्रमित हो चुके हैं जिनमें ये बुजुर्ग भी शामिल हैं.

बता दें कि बीते 15 मार्च को ही पॉजेटिव मरीज के सम्पर्क में आए 26 लोगों में परिवार के ही 9 लोग सहित 10 लोगों की जांच रिर्पोट पॉजिटिव पायी गयी थी. हालांकि इस व्यक्ति को स्वास्थ्य विभाग द्वारा बेहतर इलाज के लिए पटना के एनएमसीएच भेज दिया गया. इसके बाद पुनः स्वास्थ विभाग के द्वारा लिंक खंगालकर क्रमश:  46 और 36 लोगों का सैम्पल जांच के लिए भेजा गया. इसमें 3 कोरोना पॉजिटिव केस पुनः मिला, जिससे जमालपुर में एक्टिव मरीजों की संख्या 13 पहुंच गई.

संक्रमित बुजुर्ग ने कई जिलों का किया था दौरा
बता दें कि जिला प्रशासन ने जब इस बुजुर्ग से संबंधित जानकारी इकट्ठा की तो पाया कि कोरोना पॉजिटिव दिल्ली से आये जमातियों के सम्पर्क में आए थे. सिविल सर्जन पुरोषत्तम कुमार के अनुसार बिहारशरीफ में आयोजित तब्लीगी मरकज में शामिल होकर वह फारबिसगंज, सहरसा, अररिया, शेखपुरा और नवादा होते हुए छिपते-छिपाते मुंगेर पहुंचे थे.

जिसके बाद मुंगेर जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग को सूचना मिलने के बाद से आए जिले के कुल 22 लोगों को गोयनका धर्मशाला क्वारंटाइन वार्ड में 13 अप्रैल को भर्ती किया गया. जहां से स्वास्थ्य विभाग द्वारा 14 अप्रैल को जमात से लौटे सभी 22 लोगों का सैंपल जांच के लिए पटना आरएमआई भेजा गया था.

जिसमें से जमालपुर निवासी एक मरीज की जांच रिर्पोट 15 अप्रैल को पॉजिटिव पाई गई थी. इसके बाद मुंगेर शहर के विभिन्न क्षेत्रों से लाए गए  तब्लीगी मरकज से लौटे लोगों में 104 लोगों क्वारंटाइन किया गया है. जिनमें से अब तक 13 केस पॉजिटिव पाए जा चुके हैं.

कहते हैं डीआईजी मनु महाराज
डीआईजी मनु महराज ने बताया कि बिहारशरीफ नालंदा में आयोजित तब्लीगी मरकज को लेकर एक सूचना भेजी गयी थी जिसमें मुंगेर जिला के कई लोगों के इस मरकज में शामिल सूचना थी. जिसे लेकर जिला पुलिस टीम द्वारा विभिन्न स्थानों से संदिग्धों की पहचान कर उनका स्वास्थ्य जांच करवाई गई जिसमें जमालपुर के सदर बजार के रहने वाले  60 वर्षीय बुजुर्ग की जांच रिपोर्ट पॉजीटिव आई. जिसके बाद जिला पुलिस व जिला प्रसाशन द्वारा त्वरित कार्रवाई करते हुए जमालपुर के सदर बजार के तीन किलोमीटर को सील कर दिया गया

ये भी पढ़े


Corona crisis: कोटा पर गरमाई राजनीति! तेजस्वी ने मांगी ये अनुमति, JDU बोली- घटिया राजनीति कब तक?




Bihar: शराबबंदी के बावजूद नशे में टल्ली थे BDO साहब! SSP के आदेश पर मौके से गिरफ्तार

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.