अपना शहर चुनें

States

बिहार: बेटे की बरामदगी के लिए पुलिसवाला 12 दिनों से लगा रहा गुहार, पर अधिकारी दे रहे सिर्फ आश्वासन

मुंगेर में 12 दिनों से लापता युवक का नहीं मिला सुराग
मुंगेर में 12 दिनों से लापता युवक का नहीं मिला सुराग

अपने अपहृत (Kidnapped) बेटे की सकुशल बरामदगी के लिए पिता हवलदार गोविन्द साह थाना से लेकर एसपी, डीआईजी के समक्ष गुहार लगा चुके हैं, पर कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई है.

  • Share this:
मुंगेर. कानून-व्यवस्था के मसले पर नीतीश सरकार (Nitish Government) आखिरकार क्यों लगातार घिर रही है? तो जवाब यही है कि पुलिस अधिकारियों का रवैया लापरवाही भरा है. ताजा मामला मुंगेर का है जहां एक बार फिर पुलिस अफसरों का गैर जिम्मेदाराना रवैया सामने आया है. सबसे खास यह कि इस बार पीड़ित कोई आम आदमी नहीं बल्कि एक पुलिसवाला ही है. दरअसल, झारखंड पुलिस का हवलदार पिछले 12 दिनों से अपने अपहृत पुत्र की बरामदगी के लिए बिहार पुलिस के अधिकारियों से गुहार लगा रहा है, लेकिन उन्हें आश्वासन के सिवा कुछ नहीं मिल रहा है.

पूरा वाकया मुंगेर जिले के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के नौआगढ़ी का है. यहां झारखंड पुलिस में हवलदार के पद पर कार्यरत जवान गोविन्द प्रसाद साह का 25 वर्षीय छोटा बेटा हिमांशु कुमार आदित्य डाउनलोड जक्शन के नाम से मोबाइल दुकान चलाता था. इसी बीते 4 जनवरी को करीब शाम छह बजे हिमांशु का दोस्त राहुल कुमार अपने घर में मछली खाने को कह ले गया और तब से आज तक वह घर वापस नहीं लौटा.





अपने बेटे की सकुशल बरामदगी के लिए पिता हवलदार गोविन्द साह थाना से लेकर एसपी, डीआईजी तक सभी के समक्ष गुहार लगा चुका है पर कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई है. हालांकि एसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो के अनुसार इस मामले में दो की गिरफ्तारी हो चुकी है. वहीं हवलदार पिता ने बताया कि वह अपने बेटे की बरामदगी के लिए हर पुलिस अधिकारी के दरवाजे के चक्कर लगा चुका है पर किसी ने उसकी फरियाद नहीं सुनी.
पिछले 12 दिनों से अपने हिमांशु की बरामदगी के लिए उसकी पत्नी रीना देवी अपने सात माह के दुधमुंहे बच्चे के साथ इस ठंड में भी अपने ससुर और सास के साथ अधिकारियों के दरवाजे तक पहुंच गुहार लगा रही है. रीना ने बताया कि उसके दिल में छेद है और पति के बरामदगी नहीं होने से वह काफी परेशान हैं. उनके पति को किसी भी हाल में ढूंढ के निकाला जाए.

हिमांशु की बरामदगी के लिए परिवारवालों और ग्रामीणों ने एनएच 80 तक को जाम कर प्रशासन पर दबाव भी डाला, मगर पुलिस को कोई खास सफलता हाथ नहीं लगी. वहीं इस मामले में एसपी ने बताया कि पुलिस के द्वारा दो नामजद अभियुक्त राहुल पासवान और मौला पासवान की गिरफ्तारी कर ली गई है. उसकी निशानदेही पर छापेमारी की जा रही है. पुलिस  जल्द किसी नतीजे पर पहुंचेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज