Home /News /bihar /

सरकारी तालाब में तहखाना बनाकर छुपा रखी थी शराब, बोतलों का जखीरा देख उड़े होश

सरकारी तालाब में तहखाना बनाकर छुपा रखी थी शराब, बोतलों का जखीरा देख उड़े होश

तारापुर पुलिस ने कृषि विभाग की जमीन पर बने इस विशेष तहखाने से 793 बोतलें जिनमें 368 लीटर विदेशी शराब भरा हुआ था, उसे जब्त किया है

तारापुर पुलिस ने कृषि विभाग की जमीन पर बने इस विशेष तहखाने से 793 बोतलें जिनमें 368 लीटर विदेशी शराब भरा हुआ था, उसे जब्त किया है

Liquor Smuggling In Bihar: बिहार में शराबबंदी कानून के क्या हाल हैं, इसका अंदाजा शराब तस्करों के बेखौफ हौसले से लगा सकते हैं, जहां सरकारी जमीन पर बने कृषि विभाग के तालाब से जुड़े गुप्त तहखाने विदेशी ब्रांड की शराब की बोतलों और और कार्टन (पेटी) से भरे पड़े मिले. सूबे के मुंगेर जिले के तारापुर में अवैध शराब की यह बड़ी खेप पुलिस ने खुफिया सूचना के बाद तलाशी के दौरान पकड़ी है. पुलिस को कृषि विभाग की जमीन में लोहे की चादरों से बनी दो बड़े-बड़े तहखाने मिले. जब इन तहखानों को खोला गया तो सबके होश उड़ गए. तहखाने का ऊपर से मुंह छोटा था, पर भीतर बहुत बड़ा था, जहां यह शराब बरामद की गई.

अधिक पढ़ें ...

मुंगेर. सरकार और पुलिस-प्रशासन की तमाम सख्ती के बाद भी बिहार में शराब की तस्करी जारी है. ताजा घटना में मुंगेर (Munger) में शराब तस्करों द्वारा सरकारी भवनों और जमीनों को शराब छिपाने का अड्डा बनाने का मामला सामने आया है. डीएसपी पंकज के नेतृत्व में पुलिस ने तारापुर अनुमंडल कार्यालय के पास कृषि विभाग की जमीन पर बने तालाब के बांध में छिपा कर रखी गई भारी मात्रा में विदेशी शराब (Foreign Liquor) की बोतलें बरामद की है.

पुलिस के मुताबिक गुप्त सूचना के आधार पर बताई गई जगह पर पहुंच कर तलाशी अभियान चलाया गया जिसमें उसे जमीन में लोहे की चादरों से बनी दो बड़े-बड़े तहखाना मिले. जब इन तहखानों को खोला गया तो सबके होश उड़ गए. तहखाने का ऊपर से मुंह छोटा था पर उसके अंदर अलग-अलग ब्रांड के विदेशी शराब की बोतलें और कार्टन (पेटी) भरी पड़ी थी. पुलिस ने विशेष तौर पर बनाए गए इस तहखाने से शराब निकलना शुरू किया तो वहां मौजूद सभी लोग हैरान रह गए कि आखिर कैसे शराब की इतनी बड़ी खेप को सरकारी कैंपस में छिपा कर कैसे स्टोर किया गया था. पुलिस ने इस तहखाने से 793 बोतलें, जिनमें 368 लीटर विदेशी शराब भरी हुई थी, उन्हें बरामद किया गया.

पुलिस को माफिया सरगना, सिंडिकेट की तलाश

पुलिस अब इन बात की तलाश में जुट गई कि शराब माफिया का कौन सा सिंडिकेट शराब की इतनी बड़ी खेप को मंगा कर यहां छिपाए हुए था. डीएसपी पंकज कुमार ने बताया कि शराब तस्करी को लेकर पुलिस काफी सख्ती बरत रही है यही वजह है कि पुलिस को इतनी बड़ी सफलता हाथ लगी है. उन्होंने कहा कि यह अभियान आगे भी जारी रहेगा.

बिहार में अप्रैल 2016 से लागू है शराबबंदी कानून

बता दें कि नवंबर 2015 में सातवीं बार बिहार का मुख्यमंत्री बनने के बाद नीतीश कुमार ने अप्रैल 2016 में राज्य भर में शराबबंदी कानून (Liquor Ban In Bihar) लागू कर दिया था. इसके तहत प्रदेश में शराब बेचने और खरीदने पर पूर्ण प्रतिबंध लागू हो गया था. सीएम नीतीश ने पुलिस और प्रशासन को शराब के खिलाफ सख्त रवैया अपनाने का निर्देश दे रखा है.

Tags: Bihar Liquor Smuggling, Bihar News in hindi, Crime News, Liquor Ban, Munger news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर