Home /News /bihar /

3 लाख रुपए के लिए बंधक था मोहिब का शव, सुषमा की मदद से नसीब हुई वतन की मिट्टी

3 लाख रुपए के लिए बंधक था मोहिब का शव, सुषमा की मदद से नसीब हुई वतन की मिट्टी

सुषमा स्वराज की मदद से अपने परिवार के सदस्य का शव पाने वाला परिवार

सुषमा स्वराज की मदद से अपने परिवार के सदस्य का शव पाने वाला परिवार

मुंगेर के मुबारकचक निवासी मोहम्मद मोहिब सऊदी में रहकर मजदूरी का काम किया करते थे. 13 जुलाई 2016 को मोहिब की मौत सऊदी में हो गई

    बीजेपी की दिवंगत वरिष्ठ नेत्री और भारत सरकार की पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का बिहार से खास लगाव था. वो मुजफ्फरपुर से जुड़े विशेष लगाव के लिए जानी जाती हैं तो उनके विदेश मंत्री रहते हुए किये गए कार्यों से प्रवासी बिहारियों को भी खासी मदद मिली है. ऐसा ही एक अविस्मरणीय किस्सा मुंगेर से भी जुड़ा है.

    सऊदी में मजदूरी करता था मोहिब

    मुंगेर के सदर प्रखंड के मुबारक चक गांव के एक मजदूर जो कि सऊदी अरब में कार्यरत था का शव सुषमा स्वराज के प्रयास और मदद के बाद ही भारत लाना संभव हुआ था. इस काम के लिए मृतक के परिवार को एक भी पैसे नहीं देने पड़े थे. मामला वर्ष 2016 का है जब दिवंगत नेता सुषमा स्वराज भारत की विदेश मंत्री थीं.

    शव के बदले मांगे थे तीन लाख रुपए

    मुंगेर के मुबारकचक निवासी मोहम्मद मोहिब सऊदी में रहकर मजदूरी का काम किया करते थे. 13 जुलाई 2016 को मोहिब की मौत सऊदी में हो गई जिसके बाद मोहिब के परिवार ने उसका शव भारत लाने का काफी प्रयास किया. अब्दुल मजीद जिसके यहां मोहिब कार्य किया करता था उसने शव देने के एवज में मोहिब के परिवार से तीन लाख रुपए की डिमांड की. आर्थिक तंगी की वजह से मोहिब का परिवार इतने पैसे देने में असमर्थ था.

    चिठ्ठी से मिली थी मदद

    ये बात स्थानीय जदयू नेता रीता कुमार के संज्ञान में आया और उसने इस बात को लेकर एक आवेदन मुंगेर डीएम को दिया और डीएम ने खत के माध्यम से सारी बातों की जानकारी तत्कालीन विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को दी. इस चिट्ठी के बाद सुषमा स्वराज ने अथक प्रयास किया और फिर सऊदी से मोहम्मद मोहिब का पार्थिव शरीर 5 महीने के बाद 27 नवम्बर 2016 मुंगेर लाया जा सका.

    ममता की इस मदद की मुस्लिम परिवार ने काफी प्रशंसा भी की थी और इस विषय का जिक्र करते आज भी लोग सुषमा स्वराज का आभार व्यक्त करते हैं.

    रिपोर्ट- अरूण कुमार शर्मा

    ये भी पढ़ें- बार-बार क्यों 'खारिज' किए जा रहे हैं CM नीतीश कुमार ?

    ये भी पढ़ें- सुषमा स्वराज की मदद और जार्ज फर्नांडिस ने जेल से जीता चुनाव

    Tags: Bihar News, Munger news, Sushma swaraj, Sushma swaraj death

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर