Home /News /bihar /

Bihar Assembly Byelection: तारापुर में CM नीतीश की सभा में लगे नारे- नौकरी दो, नहीं तो गद्दी छोड़ दो

Bihar Assembly Byelection: तारापुर में CM नीतीश की सभा में लगे नारे- नौकरी दो, नहीं तो गद्दी छोड़ दो

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने तारापुर विधानसभा सीट से उपचुनाव लड़ रहे एनडीए उम्मीदवार के लिए लगातार दूसरे दिन चुनाव प्रचार कर वोट मांगा

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने तारापुर विधानसभा सीट से उपचुनाव लड़ रहे एनडीए उम्मीदवार के लिए लगातार दूसरे दिन चुनाव प्रचार कर वोट मांगा

Bihar News: तारापुर विधानसभा क्षेत्र के टेटियाबंबर प्रखंड के जगरनाथ उच्च विद्यालय के मैदान पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की चुनावी सभा में 19 लाख नौकरी की मांग संबंधी नारे लगा रहे लोगों पर उन्होंने कहा कि इनको उछलने दीजिए, यह किसी के भेजे हुए हैं. इस पर ध्यान नहीं दिया जाए.

अधिक पढ़ें ...

मुंगेर. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लगातार दूसरे दिन मुंगेर जिले के तारापुर विधानसभा क्षेत्र (Tarapur Assembly Seat) में जेडीयू सह एनडीए उम्मीदवार के पक्ष में चुनाव प्रचार किया. मंगलवार को यहां के टेटियाबंबर प्रखंड के जगरनाथ उच्च विद्यालय के मैदान पर चुनावी जनसभा (Election Rally) को संबोधित करते हुए उन्होंने विरोधियों पर जमकर निशाना साधा. नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के साथ मंच पर पूर्व मुख्यमंत्री और हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) के अध्यक्ष जीतन राम मांझी, मंत्री अशोक चौधरी, सम्राट चौधरी, सुमित कुमार, जयंत कुमार, विजय चौधरी, मुकेश सहनी समेत कई विधायक भी मौजूद थे.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि सरकार को जब से काम करने का मौका मिला है, हम काम कर रहे हैं. पूरे बिहार के उत्थान के लिए कार्य किया गया. पहले 15 साल तक पति-पत्नी को राज करने का मौका मिला, लेकिन उन्होंने क्या किया. समाज के किसी तबके के लिए कोई कार्य नहीं किया. शाम होने के बाद कोई हिम्मत नहीं करता था बाहर निकलने का. वोट लेते रहे पर काम नहीं किया. उन्होंने कहा कि बिजली की क्या स्थिति थी. हमने वादा किया था तो आज हर घर तक बिजली पहुंचा दिया गया है. वहीं, उन्होंने चुनावी सभा में 19 लाख नौकरी की मांग संबंधी नारे लगा रहे लोगों पर कहा कि इनको उछलने दीजिए, यह किसी के भेजे हुए हैं. इस पर ध्यान नहीं दिया जाए.

सीएम ने कहा कि पहले महिलाएं पीछे खड़ी रहती थीं, आज समाज में महिलाओं की कितनी इज्जत बढ़ी है. पंद्रह साल राज करने का मौका मिला पर यह लोग क्या किये. बाढ़ हो या सुखाड़ हो, इन लोगों ने क्या किया. हमने कहा है कि राज्य के खजाने पर सबसे पहला हक आपदा पीड़ितों का है. उन्होंने सवाल पूछा कि पहले कितने लोगों को रोजगार मिलता था. अब स्थिति बदली है. अनुसूचित जाति, अतिपिछड़ा और महिलाओं के लिए पांच लाख रुपये का अनुदान कर दिया गया है जिसमें मात्र एक प्रतिशत टैक्स लगेगा. नीतीश कुमार ने जनता से एनडीए प्रत्याशी को वोट देकर जिताने का अनुराध किया. उन्होंने कहा कि अगर कुछ गड़बड़ कीजिएगा तो फिर शाम को बाहर नहीं निकल पाइएगा.

‘लालू यादव का भक्त चरण दास पर दिया बयान SC-ST का अपमान’
वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने अपने भाषण में कहा कि वर्ष 2005 के पहले माननीय न्यायालय ने कहा था कि बिहार में जंगलराज है. उस समय और आज में बहुत फर्क है. पांच घंटे में बिहार के किसी भी कोने से राजधानी पटना पहुंच रहे हैं. नीतीश सरकार ने गांवों में बिजली लाने का कार्य किया, निश्चित तौर पर 22 घंटे बिजली मिलती है. विरोधियों को विकास नहीं विनाश पसंद है. उन्होंने आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव के बिहार के कांग्रेस प्रभारी भक्त चरण दास को ‘भकचोंधहर दास’ कहने पर कड़ा विरोध जताते हुए इसे एससी-एसटी के लिए अपमान की बात करार दिया.

बता दें कि तारापुर और कुशेश्वरस्थान विधानसभा सीट के लिए 30 अक्टूबर को उपचुनाव होना है. वोटों की गिनती दो नवंबर को होगी. अक्टूबर-नवंबर 2020 में हुए बिहार विधानसभा चुनाव में इन दोनों सीटों पर जेडीयू के विधायक जीत कर आए थे, लेकिन उनके निधन के बाद यह दोनों सीटों रिक्त हो गई हैं.

Tags: Assembly by election, Assembly bypoll, CM Nitish Kumar, Munger news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर