Home /News /bihar /

मुंगेर में खुली नीतीश के ड्रीम प्रोजेक्ट की पोल, पानी भरते ही जमींदोज हो गई 16 लाख से बनी टंकी

मुंगेर में खुली नीतीश के ड्रीम प्रोजेक्ट की पोल, पानी भरते ही जमींदोज हो गई 16 लाख से बनी टंकी

जमींदोज हुआ पानी टंकी

जमींदोज हुआ पानी टंकी

जलमीनार गिरते ही मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना की पोल खुल गई है और अब लोग इस योजना को लूट की योजना कहने लग गए हैं.

    बिहार में सीएम के ड्रीम प्रोजेक्ट यानी मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना में खुली लूट का मामला सामने आया है. मामला मुंगेर से जुड़ा है जहां हर घर जल का नल के तहत लगवाई गई पानी की टंकी उदघाटन के महज कुछ ही घंटे बाद जमींदोज हो गई. वार्ड क्रियान्वयन समिति द्वारा इस टंकी का 16 लाख 54 हजार रुपये से निर्माण किया गया था और जलमीनार पर रखा गया था.

    इस दौरान न तो 10 हजार लीटर की क्षमता वाली प्लास्टिक का टंकी बची और न ही उसे रखने वाला लोहे का बेस और एंगिल. मामला मुंगेर के सदर प्रखंड क्षेत्र के ग्राम पंचायत नौवागढ़ी दक्षिणी के वार्ड संख्या 10 का है. मामले की जानकारी अधिकारियों को मिली तो सदर बीडीओ ने नोटिस जारी करते हुए 40 घंटे में पेयजल की व्यवस्था को बहाल करने का आदेश जारी कर दिया.

    ये भी पढ़ें- दादी निकली डेढ़ साल की मासूम की कातिल, 36 घंटे तक घर में ही छिपा रखा था शव

    बताया जात जाता है कि सदर प्रखंड नौवागढी दक्षिणी पंचायत के वार्ड संख्या 10 बारिश टोला में वार्ड क्रियान्वयन समिति के सदस्यों द्वारा सूर्यनारायण महतो के जमीन पर जलमीनार एवं पाइप द्वारा जलापूर्ति निर्माण कार्य के तहत 16 लाख 54 हजार रुपये की लागत से टंकी लगवाया गया था. जलमीनार के लिए लोहे का स्टैंड एवं बेस बनाया गया था. स्टैंड पर दो बड़ी-बड़ी टंकी रखी गई थी जो गुणवत्ता विहीन थी.

    कार्य समाप्त होने पर मंगलवार को इसका उदघाटन पूजा अर्चना के साथ मुखिया विभा देवी तथा वार्ड सदस्य निर्मला देवी सहित इन लोगों ने संयुक्त रूप से किया. पूजा अर्चना के बाद जलमीनार की मशीन को दो प्लास्टिक की टंकियों को पानी से भरने के लिए चालू किया गया. मशीन चालू होने के 20 से 25 मिनट बाद जलमीनार पानी का भार लोहे के स्टैंड तथा बेस पर पड़ा तो लोहे का एंगल तथा बेस टूट गया. इस कारण पानी की दोनों टंकियां सहित अन्य सामग्री गिर कर नष्ट हो गई.

    ये भी पढ़ें- रात के अंधेरे में मिड डे मील का चावल चुरा रहा था हेडमास्टर

    जलमीनार गिरते ही मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना की पोल खुल गई है और अब लोग इस योजना को लूट की योजना कहने लग गए हैं. सूचना मिलने पर सदर प्रखंड बीडीओ ने घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की जांच की तथा वार्ड क्रियान्वयन समिति को 40 घंटे के अंदर जलमीनार का पानी आपूर्ति करने का निर्देश दिया गया है. अधिकारी ने कहा कि अगर वार्ड क्रियान्वयन समिति 40 घंटे के अंदर पानी की आपूर्ति लोगों के घरों तक नहीं करती है तो वार्ड क्रियान्वयन समिति सहित योजना में लिप्त दोषी लोगों पर एफआईआर दर्ज किया जाएगा.

    रिपोर्ट- अरूण शर्मा

    Tags: Bihar News, Munger news, Nitish kumar

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर