• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • बिहार: अररिया से दिल्ली ले जाए जा रहे 10 नाबालिग बच्चों को कराया मुक्त, हिरासत में दो तस्कर

बिहार: अररिया से दिल्ली ले जाए जा रहे 10 नाबालिग बच्चों को कराया मुक्त, हिरासत में दो तस्कर

अररिया से दिल्ली ले जा रहे 10 नाबालिग को मुजफ्फपुर जिला प्रशासन ने मुक्त करवाया. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

अररिया से दिल्ली ले जा रहे 10 नाबालिग को मुजफ्फपुर जिला प्रशासन ने मुक्त करवाया. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

मुजफ्फरपुर जिला प्रशासन (Muzaffarpur District Administration) को सूचना मिली थी अररिया (Araria) से बच्चे मुजफ्फरपुर के रास्ते दिल्ली ले जाए जा रहे हैं. इसके बाद कार्रवाई की गई और बच्चों को मुक्त करवाया.

  • Share this:
मुजफ्फरपुर. जिला प्रशासन की सक्रियता के कारण ह्यूमैन ट्रैफिकिंग (Human trafficking) के एक बड़े मामले का पर्दाफाश करते हुए 10 बच्चों को रिहा कराया गया है. बताया जा रहा है कि इन बच्चों को तस्कर बस से अररिया से दिल्ली (Araria to Delhi) ले जा रहे थे जहां से उन्हें लुधियाना, हैदराबाद और अन्य जगहों पर बाल मजदूरी के लिए भेजा जाना था. पुलिस ने दो बाल तस्करों को भी गिरफ्तार कर लिया है और उनसे पूछताछ की जा रही है. मिली जानकारी के अनुसार रेस्क्यू कराए के बच्चे अररिया के हैं जिन्हें तस्कर बहला- फुसलाकर अपने साथ ले जा रहे थे. सभी बच्चे गरीब परिवारों से ताल्लुक रखते हैं.

दरअसल नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी की संस्था 'बचपन बचाओ आंदोलन' को सूचना मिली थी अररिया से बच्चे मुजफ्फरपुर के रास्ते तस्करी के लिए जा रहे हैं.  संस्था ने मुजफ्फरपुर डीएम को इसकी सूचना दी. डीएम के निर्देश पर बाल संरक्षण इकाई के सहायक निदेशक उदय कुमार झा के नेतृत्व में टीम गठित की गई. जिसमें गायघाट के श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी वरुण कुमार चाइल्डलाइन संस्था के उदय शर्मा और कांटी थानेदार कुंदन कुमार की टीम बनाई गई.

टीम ने कांटी थाना के सदातपुर में खड़ी उस बस को रोकना चाहा तो वह नरीं रुकी. पुलिस ने खदेड़ कर बस को कांटी के छपरा धर्मपुर यदु गांव में घेर लिया. रोक कर जब तलाशी ली गई तो 10 बच्चे नाबालिग मिले. सहायक निदेशक उदय झा ने बताया कि इन बच्चों के अभिभावक उनके साथ नहीं थे और बच्चों को यह भी पता नहीं था उन्हें कहां और क्यों ले जाया जा रहा है.

उदय झा ने बताया कि यह एक गंभीर अपराध है. इसे देखते हुए अररिया के बाल तस्कर मोहम्मद मकसूद और मोहम्मद अंसिर को डिटेन कर लिया गया है. पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है. इधर  सभी बच्चों को चाइल्ड लाइन के हवाले कर दिया गया है जहां उनकी काउंसलिंग हो रही है.

सहायक निदेशक ने बताया कि चाइल्ड वेलफेयर कमिटी में पेश कर कर बच्चों को उनके घर पहुंचाया जाएगा और उन्हें आवश्यक सरकारी सहायता पहुंचाई जाएगी. इधर तस्कर मकसूद से जब हमने बात की तो वह घबरा गया और घबराहट में तरह-तरह के बहाने बनाने लगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज