Home /News /bihar /

मुजफ्फरपुर बालिका गृह यौन शोषण कांड में नया खुलासा, पिटाई से हुई थी लड़की की मौत

मुजफ्फरपुर बालिका गृह यौन शोषण कांड में नया खुलासा, पिटाई से हुई थी लड़की की मौत

मुजफ्फपुर की एसएसपी हरप्रीत कौर ( फाइल फोटो)

मुजफ्फपुर की एसएसपी हरप्रीत कौर ( फाइल फोटो)

मुजफ्फरपुर की एसएसपी हरप्रीत कौर ने कहा कि अब पुलिस इस नये प्रकरण की जांच मे जुट गयी है. अगर मौत की बात सही है तो उसका शव बरामद करना पुलिस की प्राथमिकता में है.

    मुजफ्फरपुर बालिका गृह यौन शोषण कांड में एक नया खुलासा हुआ है. यह खुलासा मुजफ्फरपुर से पटना भेजी गयी एक लड़की ने किया है. उसके बयान के मुताबिक बालिका गृह में एक लड़की की हत्या की गयी थी. बात नहीं मानने पर उसकी इतनी पिटाई की गयी थी कि उसकी मौत हो गयी और आनन फानन में उसका शव कहीं दफना दिया गया.

    मुजफ्फरपुर की एसएसपी हरप्रीत कौर ने कहा कि अब पुलिस इस नये प्रकरण की जांच मे जुट गयी है. अगर मौत की बात सही है तो उसका शव बरामद करना पुलिस की प्राथमिकता में है. एसएसपी ने कहा पुलिस ने इस बिंदू पर काम शुरू कर दिया है.

    ये भी पढ़ें- मुजफ्फरपुर और छपरा के बाद अब हाजीपुर अल्पावास गृह की लड़कियों ने लगाए यौन उत्पीड़न के आरोप

    इसके अलावा एसएसपी ने कहा कि बालिका गृह में रहने वाली 21 लड़कियों की मेडिकल जांच रिपोर्ट मिल गयी है जिनमें 16 के साथ दुष्कर्म की पुष्टि हुई है. अभी 8 लड़कियों की मेडिकल रिपोर्ट मिलना बाकी है. इस नये खुलासे से कुछ नये लोगों के नाम भी आरोपियों की फेहरिश्त में आ सकते हैं. इस नये प्रकरण से ब्रजेश ठाकुर की मुश्किलें और बढ गयी हैं.

    ये भी पढ़ें- बालिका गृह यौन उत्पीड़न मामले में चुप्पी पर तेजस्वी ने उठाये सवाल

    बता दें कि पिछले एक जून को इस पूरे मामले के खुलासा तब हुआ था जब समाज कल्याण विभाग के आदेश पर बालिका गृह चलाने वाले एनजीओ सेवा संकल्प एवं विकास समिति के संचालकों पर मुजफ्फरपुर के सामाजिक सुरक्षा कोषांग के सहायक निदेशक नें पॉक्सो और यौन उत्पीड़न की धाराओं में केस दर्ज कराया गया था.

    ये भी पढ़ें- मुजफ्फरपुर SSP का खुलासा- बच्चियों से जबरन शारीरिक संबंध बनाती थी महिलाकर्मी

    इससे पहले मुम्बई की संस्था टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ सोशल साइसेंस की टीम ने बालिका गृह के सोशल ऑडिट रिपोर्ट में यौन शोषण का खुलासा किया था. इस मामले में सेवा संकल्प एवं विकास समिति के संचालक रसूखदार ब्रजेश ठाकुर समेत 11आरोपी जेल में हैं. इनमें आठ महिलाएं भी है.

    इस मामले में जिला बाल कल्याण समिति के एक सदस्य विकास और जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी रवि रौशन को भी पुलिस ने जेल भेज दिया है, जबकि जिला बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष दिलीप वर्मा फरार चल रहे हैं. बालिका गृह यौन शोषण मामले में कई बड़े सफेदपोश और रसूखदार पुलिस की रडार पर हैं.

    (मुजफ्फरपुर से सुधीर कुमार की रिपोर्ट)

    Tags: Sexual violence

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर