लाइव टीवी

बिहार के इस शहर में 400 से अधिक ATM के शटर गिरे, जानें क्या है मामला
Muzaffarpur News in Hindi

News18 Bihar
Updated: December 28, 2019, 12:54 PM IST
बिहार के इस शहर में 400 से अधिक ATM के शटर गिरे, जानें क्या है मामला
मुजफ्फरपुर के करीब 70 प्रतिशत एटीएम में कैश नहीं है.

हिरासत में लिए गए CMS कर्मियों के परिजनों ने बताया कि उनके बच्चों को कहां रखा गया है इसकी जानकारी भी नहीं दी जा रही है. उन्होंने पुलिस पर हिरासत में लिए गए कर्मियों से मारपीट का भी आरोप लगाया

  • News18 Bihar
  • Last Updated: December 28, 2019, 12:54 PM IST
  • Share this:
मुजफ्फरपुर. बिहार (Bihar) के मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur) में सीएमएस (CMS) कंपनी के कैश वैन से 24 लाख की लूट की वारदात के बाद से जिले भर में करीब 400 से ज्यादा एटीएम की सेवाएं (ATM Services) प्रभावित हुई हैं. आलम ये है कि लोग रुपये निकालने के लिए एटीएम पर जाते हैं और निराश होकर लौट जाते हैं क्योंकि वहां कैश उपलब्ध नहीं होता. दरअसल कैश लोडिंग एजेंसी सीएमएस के कर्मियों नें कामकाज ठप कर दिया है. बीते 24 दिसंबर के बाद से कंपनी द्वारा कोई भी लोडिंग नहीं हो रही है.

दरअसल 24 दिसंबर को हुए इस लूटकांड में पुलिस ने सीएमएस के चार कर्मियों को पांच दिन से हिरासत में ले रखा है. कानूनन किसी को भी 24 घंटे से ज्यादा हिरासत में नहीं रखा जा सकता. इस वजह से सीएमएस के बाकी कर्मी नाराज और गुस्से में हैं.

हिरासत में लिए गए कर्मियों की जानकारी नहीं दे रही पुलिस



वहीं हिरासत में लिए गए CMS कर्मियों के परिजनों ने बताया कि उनके बच्चों को कहां रखा गया है इसकी जानकारी भी नहीं दी जा रही है. उन्होंने पुलिस पर हिरासत में लिए गए कर्मियों से मारपीट का भी आरोप लगाया. उनका कहना है कि अगर ये लोग सही हैं तो 24 घंटे में पूछताछ के बाद छोड़ देना चाहिए था. और यदि वो दोषी हैॆ तो 24 घंटे के भीतर जेल भेज देना चाहिए था. परिवारवालों का कहना है कि दरअसल पुलिस खुद कंफ्यूज है कि कंपनी के यह कर्मी दोषी है अथवा नहीं.



जानकारी के मुताबिक इस मामले में सीएमएस की तरफ से पुलिस के पास पहल नहीं हो रही है. इस वजह से सीएमएस कर्मी दिन भर कंपनी के भगवानपुर शाखा कार्यालय में जमे रहते हैं. न खुद कोई काम करते हैं और न किसी को कोई काम करने देते हैं.

चार दिनाें से हिरासत में रखे स्टाफ के मामले में CMS कर्मी कर रहे हैं विरोध


प्रतिदिन एक से सवा करोड़ ट्रांजैक्शन का हो रहा लॉस

सीएमएस की मुजफ्फरपुर शाखा के ब्रांच मैनेजर अविनाश कुमार ने बताया कि कर्मियों के कार्य बहिष्कार की वजह से प्रतिदिन एक से सवा करोड़ ट्रांजैक्शन का लॉस हो रहा है. कंपनी के जिम्मे तकरीबन 400 एटीएम है, जिसमें कैश फ्लो नहीं हो रहा है. इसके अलावा कई सारे पिकअप प्वाइंट हैं जहां से सीएमएस का बिजनेस ठप है. इससे सीएमएस को काफी लॉस (नुकसान) हो रहा है. अविनाश कुमार ने यह भी बताया कि सीएमएस लगातार पुलिस के संपर्क में है, लेकिन उनके द्वारा हिरासत में लिया गए सीएमएस कर्मियों की संलिप्तता या निर्दोष होने के बारे में कुछ ठोस नहीं कहा जा रहा है.

बता दें कि 24 दिसंबर को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के शहर में रहते हुए एटीएम में कैश लोड करते वक्त 24 लाख रुपये लूट लिए गये थे. जिस दौरान ये वारदात हुआ कैश वैन के कर्मी सदर थाना के कच्ची पक्की में ऐक्सिस बैंक के एटीएम में कैश लोड कर रहे थे.

ये भी पढ़ें

हत्या के मामले में जिसकी तलाश में थी नेपाल पुलिस पटना में बीच सड़क पर मिली लाश

NH 2 पर अपराधियों ने लूटी ट्रक में भरी 3.5 लाख की प्याज, छानबीन में जुटी पुलिस
First published: December 28, 2019, 11:04 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading