लाइव टीवी

मुजफ्फरपुर: 49 हस्तियों पर राजद्रोह का मामला बंद होगा, वकील पर चलेगा केस

News18 Bihar
Updated: October 10, 2019, 6:48 AM IST
मुजफ्फरपुर: 49 हस्तियों पर राजद्रोह का मामला बंद होगा, वकील पर चलेगा केस
याचिका दायर करने वाले वकील सुधीर कुमार ओझा के खिलाफ पुलिस केस दायर करेगी.

‘मॉब लिंचिंग’ (Mob Lynching) के खिलाफ साल की शुरुआत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को पत्र लिखने वाली 49 हस्तियों (49 Personalities) के खिलाफ दर्ज राजद्रोह (Sedition) का मामला बंद करने का पुलिस ने बुधवार को आदेश दिया.

  • Share this:
मुजफ्फरपुर. ‘मॉब लिंचिंग’ (Mob Lynching) के खिलाफ साल की शुरुआत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को पत्र लिखने वाली 49 हस्तियों (49 Personalities) के खिलाफ दर्ज राजद्रोह (Sedition) का मामला बंद करने का पुलिस ने बुधवार को आदेश दिया. मुजफ्फरपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सिन्हा ने कहा कि मामला बंद करने का उन्होंने आदेश दिया है क्योंकि अब तक की जांच में यह बात सामने आई है कि आरोपियों के खिलाफ लगाए गए आरोप 'शरारतपूर्ण' हैं और उनमें कोई ठोस आधार नहीं है. गौरतलब है कि स्थानीय अधिवक्ता सुधीर कुमार ओझा की एक याचिका पर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के आदेश पर पिछले हफ्ते सदर पुलिस थाना में एक प्राथमिकी दर्ज की गई थी.

शिकायतकर्ता वकील के खिलाफ दायर होगा मुकदमा
एडीजी हेडक्वार्टर जीतेंद्र कुमार का कहना है कि शिकायतकर्ता, सबूत उपलब्ध करा पाने में नाकाम रहा है. यहां तक कि वो वह पत्र भी नहीं दिखा सका जिसके आधार पर उसने केस किया था. इसके साथ यह भी पाया गया कि इस याचिका को दायर करने के पीछे उद्देश्य ठीक नहीं थे. उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 182 और 211 के तहत मुकदमा दायर किया जाएगा.

 


Loading...



डिप्टी सीएम सुशील मोदी की प्रतिक्रिया
बिहार के डीप्टी सीएम सुशील मोदी ने कहा है कि 49 लोगों पर राजद्रोह के मुकदमे से बीजेपी का कोई वास्ता नहीं. बीजेपी ने कभी भीड़ की हिंसा का समर्थन नहीं किया. इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री को पत्र लिखने वालों के विरुद्ध दायर मामले से बीजेपी या संघ परिवार का कोई वास्ता नहीं है.

सुशील मोदी ने कहा कि उस वकील ने चार साल पहले मेरे खिलाफ भी मामला दायर किया था.  ऐसे सीरियल लिटिगेंट के ताजा मुकदमे को तूल देकर पुरस्कार-वापसी समूह और टुकड़े-टुकड़े गैंग के लोग केंद्र सरकार को अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के विरुद्ध साबित करने की मुहिम चला रहे हैं. उनके मुताबिक एक आदती मुकदमेबाज (सीरियल लिटिगेंट) ने महज अखबारी कतरनों के आधार पर देश की 49 हस्तियों के खिलाफ 23 जुलाई को प्राथमिकी दर्ज करायी, जिसमें अन्य आरोपों के साथ राजद्रोह वाली धारा भी जोड़ दी गई थी.

(भाषा और अमित कुमार के इनपुट के साथ )
ये भी पढ़ें:

बिहार उपचुनाव: JDU ने प्रशांत किशोर सहित इन दिग्गजों को बनाया स्टार प्रचारक

बाढ़ से जूझते बिहार के लिए अमिताभ बच्चन ने बढ़ाया मदद का हाथ, दिए 51 लाख रुप

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मुजफ्फरपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 9, 2019, 10:18 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...