मीनापुर सीट: दो दशक से यहां करवट बदल रहा है ‘सियासी ऊंट’

बिहार का मीनारपुर विधानसभा क्षेत्र.
बिहार का मीनारपुर विधानसभा क्षेत्र.

Minapur Assembly Seat: मीनापुर विधानसभा क्षेत्र में बेरोजगारी, बिजली, स्वास्थ्य सेवाओं की कमी, सड़कों की खराब स्थिति जैसे कई मुद्दे हैं, जो चुनाव के दौरान हावी रहेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 19, 2020, 2:06 PM IST
  • Share this:
मीनापुर. बिहार विधानसभा चुनाव-2020 (Bihar Election-2020) के लिए अभी भले ही चुनाव आयोग ने तिथियों की घोषणा (announcement) नहीं की है, लेकिन राजनीतिक दलों के नेता पार्टी के प्रचार और संगठन को मजबूत करने में जुट गए हैं. मीनापुर विधानसभा क्षेत्र (Minapur Assembly Seat) में भी चुनावी सुगबुगाहट शुरू होने लगी है. मुजफ्फरपुर जिले के अंतर्गत आने वाली मीनापुर सीट पर इस बार कौन बाजी मारेगा, यह देखने वाली बात होगी. इस सीट से पिछले दोनों चुनाव में अलग-अलग परिणाम देखने को मिले हैं.

विधानसभा चुनाव 2015 में राष्ट्रीय जनता दल की जीत
मीनापुर विधानसभा सीट पर साल 2015 के विधानसभा चुनाव में राष्ट्रीय जनता दल को जीत मिली थी. राजद ने राजीव कुमार उर्फ मुन्ना यादव को मैदान में उतारा था. उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के अजय कुमार को हराया था. अजय कुमार को 56,850 वोट मिले थे. जबकि राजीव कुमार 80,790 वोट पड़े थे. साल 2015 में यहां से कुल 16 उम्मीदवार मैदान में थे. इससे पहले, साल 2010 के विधानसभा चुनाव में जनता दल युनाइटेड ने यहां से जीत का परचम लहराया था. जदयू के उम्मीदवार दिनेश प्रसाद ने राजद के मुन्ना यादव को मात दी थी. उस साल भी यहां कुल 14 उम्मीदवारों ने किस्मत आजमाई थी.

ये मुद्दे रह सकते हैं चुनाव के दौरान हावी
मीनापुर विधानसभा क्षेत्र में बेरोजगारी, बिजली, स्वास्थ्य सेवाओं की कमी, सड़कों की खराब स्थिति जैसे कई मुद्दे हैं, जो चुनाव के दौरान हावी रहेंगे.साल 2015 के विधानसभा चुनाव के अनुसार, मीनापुर विधानसभा क्षेत्र में कुल 2,49,698 वोटर्स थे. जिनमें से 1,33,396 पुरुष और 1,16,293 महिलाएं शामिल थी. कुल 65.2 फीसदी मतदाताओं ने अपने मत का इस्तेमाल किया था.



सीट का इतिहास
साल 2010 और 2005 में इसी सीट से जनता दल यूनाइटेड के दिनेश प्रसाद को जीत मिली थी. उन्होंने आरजेडी के मुन्ना यादव को हराया था और हिंद केसरी को हराया था. 2000 के चुनाव में दिनेश प्रसाद आजाद चुनाव लड़कर यहां जीते थे. 1995 में इस सीट से हिंद केसरी यादव ने कांग्रेस की जनकधारी प्रसाद कुशवाहा को हराया था. 1977 में जनता पार्टी के नागेंद्र प्रसाद ने जनकधारी प्रसाद को हराया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज