अपना शहर चुनें

States

Kisan Tractor March Violence: बिहार कांग्रेस प्रभारी ने उपद्रवियों को बताया BJP के गुंडे

बिहार कांग्रेस प्रभारी भक्त चरण दास
बिहार कांग्रेस प्रभारी भक्त चरण दास

Delhi Farmer Violence: दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर गृह मंत्रालय में लगातार बैठकों का दौर जारी रहा. गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर और आला अधिकारियों को निर्देश दिए कि दिल्ली में हर हाल में कानून-व्यवस्था कायम हो और आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई हो.

  • Share this:
मुजफ्फरपुर. 26 जनवरी को किसान आन्दोलन (Farmer Protest) के बहाने दिल्ली में हुई हिंसा पर कांग्रेस ने अब नया शिगुफा छोड़ा है. पार्टी के बिहार प्रभारी भक्त चरण दास (Bhakt Charan Das) ने कहा है कि दिल्ली में हिंसा करने वाले किसान नही बल्कि बीजेपी (BJP) के गुन्डे थे, जिन्हें केन्द्र सरकार का बरदहस्त प्राप्त था. बिहार कांग्रेस प्रभारी नें मुजफ्फरपुर में प्रेस वार्ता में कहा कि किसान आन्दोलन को बदनाम कर खत्म कराने के लिए बीजेपी और केन्द्र सरकार ने यह साजिश रची है, हालांकि इस दौरान वो किसान आन्दोलन के बहाने बिहार में कांग्रेस निर्माण की अपनी गुप्त योजना को छिपा नहीं सके.

भक्त चरण दास प्रदेश भर की अपनी यात्रा के क्रम में बुधवार की शाम को मुजफ्फरपुर पहुंचे थे. मुजफ्फरपुर जिला कार्यालय में प्रदेश प्रभारी का भव्य स्वागत किया गया जहां काफी समय बाद भारी संख्या में कार्यकर्ता जुटे थे. भक्त चरण दास यहीं नही रुके. उन्होनें कहा कि बीजेपी और केन्द्र सरकार ने अपने गुंडों को किसान की शक्ल में आन्दोलन में घुसा दिया था. इन्हीं लोगों नें आन्दोलन को हिंसा का रंग देने के लिए पुलिस पर हमला किया और लाल किला पर बबाल कराया.





भक्त चरण दास ने आरोप लगाया कि सुनियोजित तरीके से मीडिया पर हमला करवाया गया ताकि मीडिया किसानों को गलत ठहराए और सरकार उनपर कार्रवाई कर सके. उन्होनें मांग की है कि दिल्ली की हिंसा में जो भी लोग शामिल थे उनकी पहचान करके कार्रवाई की जाए. उन्होनें किसान नेता राकेश टिकैत पर भी कार्रवाई की जाने की मांग की.
इन सब के बाद भक्त चरण दास ने अपनी योजना का खुलासा कर दिया कि किसान आन्दोलन के तहत पार्टी बिहार में कांग्रेस निर्माण का काम कर रही है. इसके लिए महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर बेतिया से पदयात्रा निकाली जाएगी जो भ्रमण के बाद फिर वहीं पहुंचेगी. इस दौरान पार्टी की जिला और प्रखंड इकाईयों को मजबूत किया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज