Bihar Elections: पुलिस को चकमा देकर किया नामांकन, स्क्रूटनी के दौरान महिला नक्सली गिरफ्तार

पुलिस ने महिला नक्सली भारती देवी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया
पुलिस ने महिला नक्सली भारती देवी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया

भारती देवी की गिरफ्तारी मोतीपुर थानाक्षेत्र में साल 2002 में हुए एक नक्सली हमले (Naxal Attack) के सिलसिले में हुई. तब कंस्ट्रक्शन कंपनी के कैम्प पर नक्सलियों ने हमला कर कई गाड़ियों और मशीनों को जला दिया था.

  • Share this:
मुजफ्फरपुर. बिहार के मुजफ्फरपुर में पुलिस ने कुख्यात महिला नक्सली नेता भारती देवी को नाटकीय अंदाज में गिरफ्तार कर लिया. भारती चुनाव लड़ रही है. और उसने जिले के मीनापुर विधानसभा सीट (Meenapur Assembly Seat) से नामांकन दाखिल किया है. उसकी गिरफ्तारी तब हुई जब वह नामांकन पत्र की स्क्रूटनी में भाग लेने जिला मुख्यालय आई हुई थी. हालांकि नॉमिनेशन के वक्त पुलिस उसे नहीं पकड़ पाई थी.

भारती की गिरफ्तारी मोतीपुर थानाक्षेत्र में एक नक्सली हमले के सिलसिले में हुई है. मामला साल 2002 का है. मोतीपुर स्थित रोड कंस्ट्रक्शन कंपनी के कैम्प पर नक्सली हमला किया गया था, जिसमें कंपनी की कई गाड़ियां और मशीनें जला दी गयी थीं. भारती उस केस में नामजद आरोपी थी. और फरार चल रही थी. इसी बीच उसने पुलिस को चकमा देकर नामांकन पत्र दाखिल कर लिया था.

एएसपी वेस्ट सैयद इमरान मसूद ने बताया कि भारती पर कई और भी नक्सल केस दर्ज हैं. पुलिस उन सभी केसों को खंगाल रही है. फिलहाल उसे जेल भेज दिया गया है. ये गिरफ्तारी 2002 हमले के मामले में हुई है. भारती के खिलाफ इस सिलसिले में मोतीपुर थाने में केस दर्ज है.



भारती देवी उर्फ कुमारी भारती मीनापुर से भारतीय संयुक्त किसान पार्टी की प्रत्याशी है. 18 साल पुराने नक्सली कांड में उसकी गिरफ्तारी हुई है. भारती ने मीनापुर विधानसभा क्षेत्र से भारतीय संयुक्त किसान पार्टी से 3 दिन पहले अपना नामांकन दाखिल किया था. तब वह नामांकन पत्र दाखिल कर पुलिस से बच निकली थी. लेकिन शनिवार को स्क्रूटनी प्रक्रिया के दौरान पुलिस ने मुजफ्फरपुर कलेक्ट्रेट कैंपस से गिरफ्तार कर लिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज