अपना शहर चुनें

States

मुजफ्फरपुर में मुर्गी के बाद मरे कौवे और कबूतर, बिहार पर मंडराया बर्ड फ्लू का खतरा

देश के 10 राज्यों में अब तक बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है. (सांकेतिक तस्वीर)
देश के 10 राज्यों में अब तक बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है. (सांकेतिक तस्वीर)

Bird Flu: बिहार के मुजफ्फरपुर में मुर्गियों और अन्य पक्षियों के मृत पाए जाने से लोगों को बर्ड फ्लू का खतरा सताने लगा है. पशुपालन विभाग की टीम ने मृत पक्षियों के सीरम जांच के लिए ले लिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 14, 2021, 10:23 AM IST
  • Share this:
मुजफ्फरपुर. देश के कई राज्यों की तरह अब बिहार पर भी बर्ड फ्लू (Bird Flu) का खतरा मंडराने लगा है. दरअसल गुरुवार को बिहार के मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur) जिले में मुर्गियों के बाद अब खेत में मरे हुए कौवे और कबूतर भी पाए गए हैं, जिससे लोगों में दहशत है.

मुजफ्फरपुर जिले के सरैया और जयतपुर इलाके में कौवा और कबूतर के साथ-साथ मुर्गियां मृत पाई गई हैं. इन पक्षियों की मौत से बर्ड फ्लू की आशंका फैल गई है जिससे इलाके के लोग अब दहशत में हैं. मामले की जानकारी मिलते ही पशुपालन विभाग की टीम घटनास्थल पर पहुंची है. इस घटना के बाद एहतियात के तौर पर लोग अभी से ही सुरक्षा बरतने लगे हैं. इससे पहले इस इलाके में बीते 7 जनवरी को खुले खेत में दो दर्जन से ज्यादा मरी हुई मुर्गियां मिली थी. इन दोनों घटनाओं के बाद इलाके में बर्ड फ्लू की आशंका से लोग भयभीत हैं. स्थानीय किसान शशिभूषण सिंह ने बताया कि इलाके में कौवा और कबूतर अचानक मर जाते हैं लेकिन किसी को इसकी जानकारी नहीं मिलती.

उनकी डेड बॉडी जब खेतों में देखी जाती है तो पता चलता है कि बेवजह पक्षियों की मौत हो रही है और यह बात फैलने से लोगों में बर्ड फ्लू दहशत फैलने लगता है. जैतपुर की पशुपालन पदाधिकारी डॉक्टर पुनीता कुमारी ने फिर दावा किया है की बर्ड फ्लू जैसी कोई बात इन पक्षियों की मौत में नहीं है, क्योंकि इनके शरीर पर बर्ड फ्लू के सिम्टम्स नहीं देखे जा रहे हैं.



पशुपालन विभाग ने ग्रामीणों से जानकारी मिलने के बाद सभी पक्षियों के डेड बॉडी को जमीन में गड़ा गड्ढा खोदकर केमिकल डालकर गड़वा दिया है. इन पक्षियों के सिरम सैंपल कलेक्ट कर लिए गए हैं जिन्हें जांच के लिए भेजा जा रहा है लेकिन पशुपालन विभाग के तमाम दावों के बावजूद लोगों के बीच बर्ड फ्लू बीमारी की आशंका गहराने लगी है और इसका सर अब पोल्ट्री कारोबार पर भी पड़ने लगा है.
बिहार में भले ही अभी तक बर्ड फ्लू के एक भी आधिकारिक मामले सामने नहीं आए हों लेकिन लोगों ने अभी से ही चिकन, अंडा को लेकर परहेज करना शुुरू कर दिया है. अंडा के भाव पर फिलहाल ज्यादा असर नहीं पड़ा है लेकिन चिकन के खरीददारों की तादाद में कमी आ गई है. बिहार में चिकन की कीमत में 20 से 40 फीसदी तक की गिरावट हुई है. लोग बर्ड फ्लू की आशंका के बीच मटन और मछली को ही ज्यादा पसंद कर रहे हैं.

अभी तक देश के दस राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों जिसमें दिल्ली, महाराष्ट्र, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, केरल , राजस्थान, मध्यप्रदेश, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और गुजरात शामिल हैं में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई. इसके अलावा केंद्र सरकार ने भी कहा है कि अब तक 10 राज्यों में बर्ड फ्लू प्रकोप की पुष्टि हो चुकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज