अपना शहर चुनें

States

थाना से 300 मीटर की दूरी पर सरेआम कारोबारी की हत्या, 2 लाख रुपए भी लूटे

मुजफ्फरपुर में हुई हत्या की वारदात के बाद अस्पताल में भर्ती कारोबारी
मुजफ्फरपुर में हुई हत्या की वारदात के बाद अस्पताल में भर्ती कारोबारी

मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur) के सदर थाना इलाके में सितंबर महीने से अब तक तीन बैंकों (Bank) में करीब 27 लाख रुपए की लूट (Loot) हो चुकी है. रविवार को भी शहर में एक पुलिसवाले की गोली मारकर हत्या (Murder) कर दी गई थी.

  • Share this:
मुजफ्फरपुर. बिहार के मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur) में बेखौफ हत्यारों ने कपड़ा कारोबारी की गोली मारकर हत्या (Murder) कर दी. हत्यारों ने कारोबारी परेश महतो के सिर में सामने से गोली मार दी. घटना के वक्त परेश ने हेलमेट लगा रखा था. अपराधियों ने उसके हेलमेट के शीशे से गोली चलाई जिससे उसके सिर का अधिकतम हिस्सा उड़ गया. घटना सदर थाना से महज 300 मीटर दूर एनएच 28 सिक्स लेन के किनारे हुई जहां बड़ी संख्या में गाड़ियां और लोग आ जा रहे थे.

रुपए लेकर घर से निकले थे परेश

कपड़ा कारोबारी परेश वैशाली के पातेपुर थाना के प्यारेपुर गांव के निवासी थे और कारोबार के सिलसिले में सदर थाना के प्रभातनगर मोहल्ले में रहते थे. परेश का चुंदरी का थोक कारोबार है. परेश अपने घर से 2 लाख रुपए लेकर कारोबार के सिलसिले में बाइक से जा रहे थे तभी बाइक सवार हत्यारों ने पहले उसकी रेकी की. प्रभातनगर मोहल्ले के बाहर सड़क के किनारे लूट की नियत से परेश को रोका गया. इस दौरान जब परेश ने रुपए देने से इनकार किया तो अपराधियों ने उसके सिर में गोली मार दी और रुपए भी लूट लिए.



गोली लगने से उड़ चुका था सिर का एक हिस्सा
स्थानीय लोगों ने खून से लथपथ कारोबारी परेश को बैरिया स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया जहां डॉक्टरों ने उसे तत्काल आईसीयू में शिफ्ट कर दिया लेकिन अत्यधिक खून बह जाने और सिर का एक बड़ा हिस्सा क्षतिग्रस्त हो जाने की वजह से प्रवेश ने दम तोड़ दिया. पुलिस द्वारा घटना की जानकारी दिए जाने के बाद प्रवेश की पत्नी बेटे के साथ अस्पताल पहुंची. उनका रो-रोकर बुरा हाल है. परिजनों ने परेश के किसी अन्य से किसी प्रकार के अदावत की फिलहाल जानकारी नहीं दी है.

पुलिस ने दी पिता को सूचना

मृतक के पिता रामबली महतो ने बताया कि बच्चों की पढ़ाई और कारोबार के सिलसिले में परेश मुजफ्फरपुर शहर में रहता था. घटना के बाद से पूरे इलाके में काफी दहशत का माहौल है क्योंकि इसी स्थल पर बीते सितंबर के पहले सप्ताह में श्रीराम फाइनेंस से 17 लाख की लूट कर ली गई थी. लगातार सदर थाना क्षेत्र में लूट और हत्या की घटना से पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठने लगे हैं. इस मामले में नगर डीएसपी राम नरेश पासवान ने बताया कि हत्या के कारण की जानकारी के लिए परिजनों से बात की जा रही है. पुलिस टीम और एसआईटी को इलाके में छापेमारी के लिए लगा दिया गया है.

पुलिस ने दिया कार्रवाई का भरोसा

परिजनों के बयान के आधार पर पुलिस आगे की कार्रवाई करेगी. बता दे कि सदर थाना इलाके में सितंबर महीने से अब तक तीन बैंकों में करीब 27 लाख रुपए की लूट हो चुकी है. रविवार की रात अहियापुर थाना के आनंद विहार कॉलोनी में थाने में तैनात एक होमगार्ड जवान प्रमोद राय के बेटे सुजीत की भी गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. लगातार हो रही लूट और हत्या की वारदात से मुजफ्फरपुर के लोग काफी डरे हुए हैं.

ये भी पढे़ं- घरवालों से हुआ झगड़ा तो महिला ने तीन बच्चों के साथ कर ली सामूहिक आत्महत्या

ये भी पढ़ें- डेंगू से हुई मौत तो थाने जा पहुंचा परिवार, स्वास्थ्य मंत्री के खिलाफ शिकायत
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज