Viral तस्वीर का सच: बाढ़ में नहीं डूबा था बच्चा, मां ने ही दिया था पानी में धक्का

पिछले दो दिनों से सोशल मीडिया पर एक मासूम बच्चे की मौत की तस्वीर वायरल हो रही है. दिल दहला देने वाली इस तस्वीर को सोशल मीडिया पर बाढ़ के दौरान डूबने से हुई मौत कहकर वायरल किया जा रहा है. लेकिन न्यूज 18 की जमीनी पड़ताल के बाद वायरल तस्वीर की हर सच्चाई सामने आ गई.

News18 Bihar
Updated: July 18, 2019, 5:16 PM IST
Viral तस्वीर का सच: बाढ़ में नहीं डूबा था बच्चा, मां ने ही दिया था पानी में धक्का
मुजफ्फरपुर की वायरल तस्वीर मामले में डीएम ने कहा कि मां ने खुद अपने बच्चों को धक्का दिया था.
News18 Bihar
Updated: July 18, 2019, 5:16 PM IST
सोशल मीडिया पर वायरल हुए तीन महीने के एक मृत बच्चे की तस्वीर मामले में नया खुलासा हुआ है. मुजफ्फरपुर के जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष ने कहा कि मृत बच्चे की मां ने ही अपने बच्चों को पानी में धक्का दे दिया था. इसके बाद वह खुद पानी में कूद गई थी. डीएम ने कहा कि महिला ने अपराध किया है इसलिए मुआवजा देने का कोई मामला नहीं है. वहीं इस मामले में डीएसपी पूर्वी ने गांव जाकर लोगों से की पूछताछ की, जिसके बाद बच्चे की मां रीना देवी को हिरासत में ले लिया है. वहीं रीना देवी के पति शत्रुघ्न राम से पूछताछ की जा रही है.

बता दें कि पिछले दो दिनों से सोशल मीडिया पर एक मासूम बच्चे की मौत की तस्वीर वायरल हो रही है. दिल दहला देने वाली इस तस्वीर को सोशल मीडिया पर बाढ़ के दौरान डूबने से हुई मौत कहकर वायरल किया जा रहा है. लेकिन न्यूज 18 की जमीनी पड़ताल के बाद वायरल तस्वीर की हर सच्चाई सामने आ गई.

मां ने बताया, ऐसे पानी में डूब गए बच्चे
दरअसल दो दिन पहले  मुजफ्फरपुर के रानीखैरा पंचायत के शीतलपट्टी गांव में बागमती की उपधारा में एक ही परिवार के 3 बच्चे डूबकर मर गए थे. मरने वाले बच्चों में एक 3 महीने का अर्जुन भी था.

बच्चे की मां रीना देवी ने बताया कि वह बागमती नदी के तट पर कपड़ा धोने और नहाने गई थी. रीना देवी के साथ उनके 4 बच्चे भी गए थे, जो नदी के किनारे खेल रहे थे. तभी अचानक उनका 1 बच्चा पानी में फिसल गया.

रीना देवी के बयान में विरोधाभास
रीना देवी ने बताया कि बच्चे को बचाने के लिए मां और बाकी तीनों बच्चे भी पानी में कूद पड़े, लेकिन तेज बहाव में वे सब डूबने लगे. स्थानीय लोगों ने उन्हें समय रहते देख लिया, जिससे रीना देवी और उनकी एक बेटी राधा को लोगों ने बचा लिया, लेकिन तमाम प्रयासों के बाद भी 3 बच्चे अर्जुन, राजा और बेटी ज्योति को बाहर नहीं निकाला जा सका.
Loading...

गांववालों ने बताया पति-पत्नी में हुआ था झगड़ा
हालांकि पति शत्रुघ्न राम ने बताया कि रीना की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है. कुछ दिनों पहले उसे दिमागी बुखार हुआ था. जिसका इलाज चल रहा है. वहीं गांववालों का कहना है कि पति पत्नी के बीच झगड़े की वजह से बच्चों की जान गई है. बहरहाल महिला, उसके पति और गांव वालों के बयान में विरोधाभास के बाद डीएम ने इसकी सच्चाई सबके सामने ला दी है.

इनपुट- सुधीर कुमार

ये भी पढ़ें-


RSS 'जासूसी' मामला: बिहार की सियासत पर हो सकता है ये असर




पटना में नियोजित शिक्षकों का बवाल, पथराव के बाद पुलिस ने भांजी लाठियां

RSS की जासूसी वाले सरकारी लेटर को बीजेपी के मंत्री ने ही बता दिया 'फर्जी'

First published: July 18, 2019, 4:25 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...