• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना में फर्जीवाड़ा ! 4 साल बाद गैस सिलेंडर के बदले मिल रहा सिर्फ कार्ड

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना में फर्जीवाड़ा ! 4 साल बाद गैस सिलेंडर के बदले मिल रहा सिर्फ कार्ड

प्रधानमंत्री उज्ज्वला स्कीम (सांकेतिक चित्र)

प्रधानमंत्री उज्ज्वला स्कीम (सांकेतिक चित्र)

न्यूज 18 की पड़ताल में इस योजना से जुड़े कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं. लाभुकों को गांव में गैस एजेंसी (Gas Agency) उपलब्ध रहने पर भी 16 किलोमीटर दूर दूसरे जिले से गैस सिलेंडर (LPG) लाना पड़ रहा है इतना ही नहीं कनेक्शन देने के नाम पर भी दोगुनी राशि वसूली गई.

  • Share this:
मुजफ्फरपुर. कोरोना बंदी (Corona Crisis) में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (Pradhan mantri ujjwala yogna) के लाभुकों को मुफ्त में तीन माह तक गैस सिलेंडर की घोषणा के बाद मुजफ्फरपुर में बड़ी गड़बड़ी सामने आई है. फ्री के गैस सिलेंडर के लिए लाभुकों को चार साल पुराने डेट का गैस कार्ड, वितरक द्वारा दिया जा रहा है. इतना ही नहीं मुजफ्फरपुर जिले के लाभुकों को मोतिहारी जिले के गैस वितरक के पास जाने के लिए कहा जा रहा है. न्यूज 18 की पड़ताल में योजना से जुड़े कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं. लाभुकों को गांव में गैस एजेंसी उपलब्ध रहने पर भी 16 किलोमीटर दूर दूसरे जिले से गैस सिलेंडर लाना पड़ रहा है इतना ही नहीं कनेक्शन देने के नाम पर भी दोगुनी राशि वसूली गई.

मीनापुर के टेंगरारी पंचायत में हुआ खुलासा

मुजफ्फरपुर के मीनापुर प्रखंड के टेंगरारी गांव की रहने वाली किरण देवी ने पहली बार कोरोना बंदी में गैस सिलेंडर लेना चाहा. इससे पहले कभी भी गैस सिलेंडर के लिए उनसे किसी ने यह कहकर आवेदन नहीं लिया था कि उसे गैस सिलेंडर मिलेगा लेकिन गांव की दूसरी महिलाओं से जब पता चला कि गांव से 15 किलोमीटर दूर मोतिहारी के नरहा पानापुर में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना से गैस मिला है तो मीनापुर के गैस एजेंसी के पास किरण देवी गांव की दूसरी महिलाओं के साथ पहुंची. काफी दबाब बनाने के बाद सभी को मोतिहारी जिले के नरहा पानापुर जाने के लिए कहा गया जहां गैस सिलेंडर और चूल्हा तो नहीं मिला, सिर्फ 2016 और 2018 लिखा ग्रामीणों को कार्ड वितरक द्वारा दिया गया जबकि आजतक किरण देवी को गैस सिलेंडर मिला ही नहीं था.  किरण की तरह टेंगरारी पंचायत में 5 सौ से अधिक लोग पीड़ित हैं.

दूसरे जिलों में मिल रहा गैस सिलेंडर

इलाके के जिन गरीबों ने प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लिए टेंगरारी गांव में ही स्थित गैस एजेंसी में आवेदन दिया था उसे भी गांव से 15 किलोमीटर दूर मोतिहारी जिले में भेज दिया गया. मुफ्त में मिलने वाला गैस कनेक्शन के लिए गरीबों से नाजायज पैसे वसूले गये इतना ही नहीं गांव में मोतिहारी जिले से गैस सिलेंडर का होम डिलेवरी भी नहीं है. जिन लाभुकों को पहले कनेक्शन मिला भी उसे 15 किलोमीटर दूरी तय कर गैस सिलेंडर लाना पड़ता है जबकि गांव में ही गैस एजेंसी काम कर रही है साथ ही जिस कैटेगरी में गैस कनेक्शन दिया गया उसके लिए भी दोगुणी रकम वसूली गई. प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना की पात्रता रखने वाले गरीब लाखों को भी दूसरे कैटेगरी के तहत गैस कनेक्शन दे दिया गया.

ऐसे हुआ फर्जीवाड़ा

न्यूज 18 की पड़ताल में पता चल रहा है कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लिए लाभुकों के चयन के लिए निजी एजेंसी से सर्वे कर गांव के लोगों से आवेदन लिया गया था लेकिन कम पढ़े लिखे लोगों को पता तक नहीं था कि जिस आवेदन पर उनसे सहमति ली जा रही है आखिर किस काम के लिए है. मुजफ्फरपुर के जिला आपूर्ति पदाधिकारी ने इस मामले में हाथ खड़े करते हुए कहा कि उनका काम आईओसी को सिर्फ उपभोक्ताओं के आवश्यक कागजात में मदद करना भर था. इस सबंध में मुजफ्फरपुर के आईओसी के अधिकारी अमन वर्मा ने फोन पर बताया कि फिलहाल हाईकोर्ट का एक एजेंसी से दूसरे एजेंसी में ट्रांसफर करने पर रोक है. थर्ड पार्टी के जरिये लाभुकों का नाम आया था बाद में लोकल स्तर पर गैस के वितरक जुड़े हैं लेकिन चार साल पुराना गैस का कार्ड अब क्यों दिया जा रहा है इस पर उन्होंने मोतिहारी के अधिकारी से बात करने की बात की.

ये कहते हैं अधिकारी

मुजफ्फरपुर आईओसी के अधिकारी अतुल वर्मा ने कहा कि मोतिहारी के सोनू इंडेन गैस एजेंसी कि शिकायत पहले भी मिली है. सीमावर्ती जिला होने के कारण पहले कुछ कनेक्शन वहां दे दिया गया था लेकिन 2017 में मीनापुर में कई एजेंसी के हो जाने के बाद अब हाईकोर्ट के आदेश के बाद ही उपभोक्ताओं का कनेक्शन वापस मुजफ्फरपुर के मीनापुर में हो पायेगा. फिलहाल कोर्ट द्वारा रोक लगाई गई है. प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना में मुजफ्फरपुर में लक्ष्य से अधिक लाभुकों को कनेक्शन देने का दावा किया गया था लेकिन चार साल पहले के लाभुकों को अभी तक योजना का लाभ नहीं देना और ठीक सर्विस नहीं देकर अधिक पैसे की गरीबों से वसूली पूरे सिस्टम को कठघरे में खड़ा करता है.

ये भी पढ़ेंLockdown: अगले दो दिन में कोटा, बेंगलूरु और केरल से बिहार आएंगी ये 6 स्पेशल ट्रेनें, यहां देखें शेड्यूल

ये भी पढ़ें- दरभंगा: सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन कराने गई पुलिस टीम पर जानलेवा हमला, ASI सहित 3 जख्मी

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज