BRD गोरखपुर के 'चर्चित' डॉ कफील खान पहुंचे मुजफ्फरपुर, लगाया कैंप

मुजफ्फरपुर के एसकेएमसीएच अस्पताल में चमकी बुखार से जान गंवाते बच्चों पर कफील ने कहा है कि SKMCH में 200 बेड वाले आइसीयू की तत्काल व्यवस्था सरकार को करनी चाहिए.

News18 Bihar
Updated: June 19, 2019, 9:29 PM IST
BRD गोरखपुर के 'चर्चित' डॉ कफील खान पहुंचे मुजफ्फरपुर, लगाया कैंप
कफील मंगलवार को SKMCH अस्पताल भी गए. उन्होंने पीआईसीयू से लेकर वार्ड में भर्ती बच्चों को देखा और उनके परिजनों से बातचीत की.
News18 Bihar
Updated: June 19, 2019, 9:29 PM IST
गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में आक्सीजन की कमी से हुई बच्चों की मौत के समय डॉ कफील खान के नाम पर खूब सुर्खियां बनी थीं. उस दौरान डॉ कफील खान पर आरोप भी लगे और उन्हें कई महीने तक जेल में भी रहना पड़ा था. अब मुजफ्फरपुर के एसकेएमसीएच अस्पताल में चमकी बुखार से जान गंवाते बच्चों पर डॉ कफील खान फिर सुर्खियों में हैं. उन्होंने कहा है कि SKMCH में 200 बेड वाले आइसीयू की तत्काल व्यवस्था सरकार को करनी चाहिए. कफील मंगलवार को मुजफ्फरपुर में हेल्थ कैंप लगाने पहुंचे थे, इस दौरान वह SKMCH अस्पताल भी गए. उन्होंने पीआईसीयू से लेकर वार्ड में भर्ती बच्चों को देखा और उनके परिजनों से बातचीत की.

उन्होंने अस्पताल के सुपरिटेंडेंट और बच्चा विभाग के एचओडी से भी मुलाकात की और महामारी का रूप ले चुकी चमकी बुखार के रोक-थाम के विषय पर विचार विमर्श किया.

मेडिकल कैंप का आयोजन

इंसाफ मंच और डॉ कफील खान ने मुजफ्फरपुर के दामोदरपुर में मेडिकल कैम्प का आयोजन किया, जिसमें 300 बच्चों को चेकअप के बाद मुफ्त दवाइयां दी गईं. डाक्टरों की टीम में कफील खान के अलावा डॉ अरशद अंजुम, डॉ एन आजम, डॉ आशीष कुमार भी शामिल थे.

सुप्रीम कोर्ट से कफील को मिली राहत

बीते मई महीने में सुप्रीम कोर्ट ने डॉ कफील खान को बड़ी राहत दी थी. शीर्ष अदालत ने उत्‍तर प्रदेश सरकार को आदेश दिया है कि वह डॉ कफील की बकाया राशि का भुगतान जल्‍द से जल्‍द करें. बता दें कि डॉ कफील ने अपने निलंबन को लेकर चल रही जांच को कोर्ट में चुनौती दी थी. सुप्रीम कोर्ट ने इसके साथ ही डॉ कफील के खिलाफ चल रही जांच को तीन महीने में पूरा करने का आदेश दिया है. गोरखपुर बीआरडी मेडिकल कॉलेज की घटना के बाद डॉ कफील खान को गिरफ्तार कर लिया गया था. वे लगभग 7 महीने तक जेल में बंद रहे. अप्रैल 2018 में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने उन्हें जमानत दे दी थी.

ये भी पढ़ें:
Loading...

बिहार में लू से मरने वालों की संख्या बढ़कर हुई 90, CM नीतीश पूछने जाएंगे हाल

AES से बच्चों की मौत: सुप्रीम कोर्ट में एक और जनहित याचिका दाखिल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मुजफ्फरपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 19, 2019, 9:10 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...