Home /News /bihar /

जदयू अध्यक्ष का दावा, जल्‍द सुलझ जाएगी सीटों को लेकर असहमति

जदयू अध्यक्ष का दावा, जल्‍द सुलझ जाएगी सीटों को लेकर असहमति

मुजफ्फरपुर बिहार विधानसभा चुनाव से पहले जनता दल के महाविलय नहीं होने पर सीटों के तालमेल से चुनाव लड़ने की बात जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने कही है.

मुजफ्फरपुर बिहार विधानसभा चुनाव से पहले जनता दल के महाविलय नहीं होने पर सीटों के तालमेल से चुनाव लड़ने की बात जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने कही है.

मुजफ्फरपुर बिहार विधानसभा चुनाव से पहले जनता दल के महाविलय नहीं होने पर सीटों के तालमेल से चुनाव लड़ने की बात जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने कही है.

मुजफ्फरपुर बिहार विधानसभा चुनाव से पहले जनता दल के महाविलय नहीं होने पर सीटों के तालमेल से चुनाव लड़ने की बात जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने कही है.

मुजफ्फरपुर में पत्रकारों से बातचीत में वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा कि सूबे में हाल के राजनीतिक घटनाक्रम से जनता दल परिवार के महाविलय की प्रक्रिया तेज हुई, लेकिन अलग-अलग दलों के संगठन और उनके संविधान की वजह से महाविलय में अड़चनें आ रही है.

बिहार में नीतीश के नेतृत्व पर किसी प्रकार का मतभेद से इनकार करते हुए वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा कि लालू यादव समेत पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष रामचन्द्र पूर्वे और अब्दुल बारी सिद्धिकी तक नीतीश के नेतृत्व पर अपनी खुली राय रख दी है, साथ ही कांग्रेस ने भी अपना पक्ष रखकर नीतीश के नेतृत्व पर सहमति जता चुके हैं.

वशिष्ठ नारायण सिंह ने भाजपा से तालमेल से इनकार करते हुए हम के नेताओं की वापसी से साफ-साफ इनकार किया है. मोदी सरकार द्वारा बजट सत्र के दौरान भूमि अधिग्रहण अध्यादेश लाने को पूंजीपतियों का प्रभाव बताते हुए संसदीय परंपराओं के विपरीत बताया और कहा कि इससे भारतीय कृषि विकलांगता की स्थित में आ जाएगी.

जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह की मौजूदगी में मुजफ्फरपुर में पार्टी कार्यकर्ताओं ने स्थानीय परिसदन में दो बार जमकर हंगामा किया। जदयू के विभिन्न प्रकोष्ठों के एक दर्जन नेताओं का इस बात को लेकर विरोध है कि जिलाध्यक्ष गणेश भारती द्वारा उनके ऊपर अलग से प्रभारी नियुक्त कर दिया गया है जबकि प्रकोष्ठों के अध्यक्ष की नियुक्ति प्रदेश स्तर पर की गई है. साथ की कुछ नेताओं की यह भी शिकायत थी कि उन्हें प्रदेश अध्यक्ष के समक्ष अपनी बात नहीं रखने दिया जा रहा है.

कुछ कार्यकर्ताओं ने प्रदेश अध्यक्ष के कक्ष में रोके जाने को लेकर भी विरोध जताया है. प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने मुजफ्फरपुर के असंतुष्ट नेताओं को पटना में दो अप्रैल को आकर अपनी बात रखने के लिए कहा है.

कार्यकर्ताओं के हंगामे के बीच प्रदेश अध्यक्ष ने सब कुछ सामान्य बताते हुए इसे कार्यकर्ताओं का उत्साह बताते हुए दो अप्रैल को सभी की बात सुनने का भरोसा दिलाया. प्रदेश अध्यक्ष एक समाजिक समारोह में भाग लेने शुक्रवार को मुजफ्फरपुर पहुंचे थे.

 आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

Tags: Lalu Prasad Yadav

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर