Home /News /bihar /

JDU प्रवक्ता नीरज कुमार बोले- आरजेडी अपराध की संस्कृति का पोषक

JDU प्रवक्ता नीरज कुमार बोले- आरजेडी अपराध की संस्कृति का पोषक

जेडीयू प्रवक्ता नीरज कुमार (फाइल)

जेडीयू प्रवक्ता नीरज कुमार (फाइल)

नीरज कुमार ने आरोप लगाया कि हाल के दिनों में हुई अापराधिक घटनाएं आरजेडी के संरक्षित गिरोह द्वारा की गई है.

    जेडीयू के प्रवक्ता और विधान पार्षद नीरज कुमार ने बुधवार को आरजेडी पर गंभीर आरोप लगाए हैं. नीरज कुमार ने मुजफ्फरपुर में पार्टी कार्यालय में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि आरजेडी अपराध की संस्कृति का पोषक है.

    नीरज कुमार यहीं नहीं रुके बल्कि आरजेडी पर यहां तक आरोप लगा दिया कि हाल के दिनों में हुई अापराधिक घटनाएं आरजेडी के संरक्षित गिरोह द्वारा की गई है. जेडीयू प्रवक्ता ने तेजस्वी यादव और सांसद पप्पू यादव के बीच राजनीतिक संबंध का खुलासा करने की मांग की. नीरज ने सवाल उठाया कि जब सांसद पप्पू यादव को आरजेडी ने निलंबित कर दिया है तो फिर लोकसभा की सदस्यता रद्द करने के लिए आरजेडी ने कारवाई क्यों नहीं की.

    ये भी पढ़ें- बिहार में कई इलाकों में लगे भूकंप के झटके, घरों से बाहर निकले लोग

    जेडीयू प्रवक्ता ने सांसद पप्पू यादव को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि वह राजनीति के लम्पटीकरण का पर्याय हैं. सांसद पप्पु यादव के खिलाफ 26 मुकदमा दर्ज रहने और 24 मामलों में चार्जशीट दायर होने की जानकारी देते हुए जेडीयू प्रवक्ता ने कहा कि निर्लजता की पराकाष्ठा है कि ऐसे लोग सावर्वजनिक जीवन में हैं.

    ये भी पढ़ें- 9 साल के लंबे इंतजार के बाद बिहटा में शुरू हुआ ESIC अस्पताल

    तेजस्वी के पीए पर अनैतिक देह व्यापार का आरोपी होने सहित आरजेडी के कई विधायकों पर संगीन आरोपों में मुकदमा दर्ज होने की जानकारी देते हुए जेडीयू प्रवक्ता ने कहा कि कोई माई का लाल कानून के राज को खत्म नहीं कर सकता है. लालू-राबड़ी शासन की तुलना में अपराध कम होने का दावा करते हुए नीरज कुमार ने कहा कि हाल की कुछ घटनाएं सरकार को बदनाम करने के लिए की गई है.

    Tags: Jdu, Neeraj kumar, Pappu Yadav, RJD, Tejaswi yadav

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर