बिहार: जानें मुजफ्फरपुर कोर्ट में पशुपति कुमार पारस और प्रिंस राज पर किन धाराओं में दर्ज हुआ परिवाद

मुजफ्फरपुर कोर्ट में सांसद पशुपति कुमार पारस व प्रिंस राज पर परिवाद दाय

वादी के अधिवक्ता कमलेश कुमार ने कहा है कि धोखाधड़ी के आरोप में आईपीसी 420, 406 और 34 के तहत मुकदमा दायर किया गया है. मामला न्यायालय में अगर साबित होता है तो अभियुक्तों को 3 साल तक की सजा हो सकती है. सुनवाई के लिए 21 जून की अगली तारीख तय की गई है.

  • Share this:
मुजफ्फरपुर. लोक जनशक्ति पार्टी में पशुपति पारस और चिराग पासवान के बीच पार्टी के उत्तराधिकार को लेकर आए राजनीतिक भूचाल का मामला न्यायालय में पहुंच गया है.  मुजफ्फरपुर के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में लोक जनशक्ति पार्टी के संसदीय दल के नए अध्यक्ष पशुपति पारस और सांसद प्रिंस राज के खिलाफ परिवाद दायर किया गया है. मुजफ्फरपुर के सामाजिक कार्यकर्ता कुंदन कुमार ने अधिवक्ता कमलेश कुमार के माध्यम से यह परिवाद दायर किया है.

दायर परिवाद में संसदीय मर्यादाओं को तार-तार करने और लोक जनशक्ति पार्टी के संविधान से खिलवाड़ करने का आरोप पशुपति और प्रिंस पर लगाया गया है.सीजेएम कोर्ट में भारतीय दंड विधान की धारा 406, 420 और 34 आईपीसी के तहत परिवाद दायर किया गया है. जिसकी सुनवाई की अगली तारीख 21 जून मुकर्रर की गई है.

मुद्दई कुंदन कुमार ने दायर परिवाद में कहा है कि अभियुक्तों ने लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान के साथ धोखाधड़ी और विश्वासघात किया है. दोनों अभियुक्तों ने पार्टी के अन्य नेताओं को भ्रमित करते हुए पार्टी पर कब्जा करने की कोशिश की है. ऐसा करके दोनों अभियुक्तों ने लोकतंत्र के संसदीय मर्यादा का खुल्लम खुल्ला उल्लंघन किया है. देश के एक आम नागरिक के रूप में परिवादी को इससे काफी आघात पहुंचा और वह बीमार हो गया जिसके कारण उसे अस्पताल जाकर इलाज कराना पड़ा.

परिवादी कुंदन का कहना है कि नाजायज लाभ लेने की नीयत से दोनों अभियुक्तों ने यह साजिश रची और तथ्यों को तोड़ मरोड़ कर पार्टी के अन्य सांसदों और नेताओं को भ्रमित कर दिया. वादी के अधिवक्ता कमलेश कुमार ने कहा है कि धोखाधड़ी के आरोप में आईपीसी 420, 406 और 34 के तहत  मुकदमा दायर किया गया है. मामला न्यायालय में अगर साबित होता है तो अभियुक्तों को 3 साल तक की सजा हो सकती है. सुनवाई के लिए 21 जून की अगली तारीख तय की गई है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.