Lockdown: पहली बार ऑनलाइन हुआ नेशनल वुशु चैंपियनशिप, 700 खिलाड़ी ले रहे भाग
Muzaffarpur News in Hindi

Lockdown: पहली बार ऑनलाइन हुआ नेशनल वुशु चैंपियनशिप, 700 खिलाड़ी ले रहे भाग
पहली बार नेशनल वुशु चैंपियनशिप हुआ ऑनलाइन

लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान भारत में पहली बार ऑनलाइन नेशनल वुशु चैंपियनशिप (National Wushu Championship) का आयोजन किया गया है. 15 मई से 18 मई तक चलने वाले चैम्पियनशिप का उद्घाटन केन्द्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजु ने किया.

  • Share this:
मुजफ्फरपुर. कोविड-19 (Covid-19) के वैश्विक संकट के बीच भारत ने 15 मई को ऐतिहासिक रिकॉर्ड बनाया. विश्व भर के बड़े बड़े देश जब लॉकडाउन (Lockdown) में हैं तब भारत में पहली बार ऑनलाइन नेशनल वुशु चैंपियनशिप (National Wushu Championship) का आयोजन किया गया है. पूरे विश्व में यह पहला मामला है जब वुशु का नेशनल चैंपियनशिप ऑनलाइन आयोजित किया गया हो. केंद्रीय खेल मंत्रालय और इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन की देखरेख में इस चैंपियनशिप का आयोजन वुशु एसोशिएशन ऑफ इंडिया ने किया है.

15-18 मई तक होगा चैंपियनशिप का आयोजन

15 मई से 18 मई तक चलने वाले चैम्पियनशिप का उद्घाटन केन्द्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजु ने किया. उद्घाटन सत्र में न सिर्फ भारत के सभी राज्यों के खिलाड़ी और पदाधिकारी एक मंच पर आए बल्कि इंटरनेशनल वुशु फेडेरेशन के सेक्रेटरी जनलर झांग क्युपिंग भी चीन की राजधानी बीजिंग से शामिल हुए. उद्घाटन में केंद्रीय खेल मंत्री के अलावे वुशु एसोसिएशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष भूपेन्द्र सिंह वाजवा, इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन के अध्यक्ष नरेंद्र ध्रुव बत्रा, केन्द्र सरकार के खेल सचिव आईएएस रवि मित्तल अपने अपने ऑफिस से ऑनलाइन मौजूद थे.



घर या आंगन की छत पर दिखाएंगे जौहर
चैंपियनशिप में देश भर से चयनित 700 वुशु खिलाड़ी 18 मई तक अपने घर के छत या आंगन से अपना जौहर दिखाएंगे. कोरोना काल में जब खेल के मैदान में लॉकडाउन की वजह से सारी खेल गतिविधियां बंद हैं. उस हाल में ऑन लाइन वुशु नेशनल चैंपियनशिप के आयोजन से भारत ने पूरे विश्व को हैरत में डाल दिया है. इस चैंपियनशिप में जूनियर, सब-जूनियर और सीनियर वर्ग के खिलाड़ी भाग ले रहे हैं. नेशनल चैंपियनशिप से पहले बीते 12 मई को देश भर में राज्य स्तरीय ऑनलाइन चैंपियनशिप का आयोजन किया गया था.

बिहार से 22 खिलाड़ियों का हुआ चयन

बिहार वुशु संघ के महासचिव दिनेश मिश्रा ने बताया कि राज्यस्तरीय चैंपियनशिप में सभी राज्यों से 700 खिलाड़ियों का नेशनल के लिए चयन किया गया था. उनमें बिहार से 22 खिलाड़ियों का चयन नेशनल के लिए हुआ था. उद्घाटन के बाद कई खिलाड़ियों ने खेल में भाग लिया जिसे देखकर खेल मंत्री गदगद हो गए. बंगाल के एक खिलाड़ी का प्रदर्शन देखकर खेल मंत्री ने कहा कि वुशु बहुत खूबसूरत खेल है.

वुशु का स्कोप देश के साथ विदेशों में भी बहुत ज्यादा: मंत्री

चैंपियनशिप के उद्घाटन भाषण में मंत्री ने कहा कि वुशु का स्कोप योग की तरह देश के साथ साथ विदेशों में भी बहुत ज्यादा है. उन्होंने इंटरनेशनल वुशु फेडेरेशन से इस खेल को प्रोमोट करने का आग्रह किया. मंत्री ने कहा कि भारत सरकार इस आयोजन और वुशु को हर प्रकार का सहयोग करेगा. मंत्री ने सभी खिलाड़ियों और आयोजकों को बधाई दी. इंटरनेशनल वुशु फेडेरेशन के सेक्रेटरी जेनरल झांग क्युपिंग ने इस आयोजन को ऐतिहासिक बताते हुए कहा कि विश्व में ऐसा पहली बार हो रहा है. उन्होंने सभी खिलाड़ियों और भारत को इसके लिए बधाई दी.

सेनेगल के डकार में होगा यूथ ओलंपिक

इंडियन ओलम्पिक एसोसिएशन के अध्यक्ष नरेन्द्र ध्रुव बत्रा ने अपने संबोधन में इस आयोजन के लिए आयोजकों की खुलकर प्रसंशा की. बत्रा ने 2022 में सेनेगल के डकार में होने वाले यूथ ओलम्पिक में वुशु को शामिल होने पर विश्व वुशु कम्यूनिटि को बधाई दी. उन्होंने इस आयोजन में भारतीय टीम से गोल्ड मेडल जीतने की मांग की. इस आयोजन से वुशु के खिलाड़ी भी काफी खुश हैं. कोरोना संकट में विश्व के शक्तिशाली देश लॉकडाउन में हैं तो भारत खेल की नयी इबारत विश्व के आकाश में लिख रहा है.

ये भी पढ़ें: सात फेरों पर Lockdown पड़ रहा भारी!घरेलू हिंसा में मदद को हेल्पलाइन नंंबर जारी

14 साल से फरार कुख्यात नक्सली CRPF की गिरफ्त में, कई वारदातों में था वांछित
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading