Home /News /bihar /

मुजफ्फरपुर में खून के काले कारोबार का खुलासा, 1000 रुपए देकर गरीबों से कराते थे ब्लड डोनेशन

मुजफ्फरपुर में खून के काले कारोबार का खुलासा, 1000 रुपए देकर गरीबों से कराते थे ब्लड डोनेशन

बिहार के मुजफ्फरपुर से पकड़े गए शातिर

बिहार के मुजफ्फरपुर से पकड़े गए शातिर

बिहार के मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur) से पकड़े गए इस गिरोह का सरगना नवीन है जो खास तौर पर गरीब लोगों जैसे रिक्शा चलाने वालों, सब्जी बेचने वालों को फांसता था और 1000 रुपए देखकर रक्तदान कराता था.

मुजफ्फरपुर. बिहार के मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur) में खून के काले कारोबार का खुलासा हुआ है. जिले में खून कारोबारियों का गिरोह भोले-भाले लोगों से ब्लड डोनेशन (Blood Donation) के नाम पर खून लेकर इसकी ब्लैक मार्केटिंग कर रहा था. इसका खुलासा तब हुआ जब मिठनपुरा थाना इलाके के मालीघाट के चूना भट्टी गली में स्थानीय लोगों ने एक घर में कुछ लोगों की पिटाई कर दी. स्थानीय युवक रमण झा ने बताया कि मधुबाला सिन्हा नामक एक महिला के मकान में बड़ी संख्या में बाहरी लोग आ जा रहे थे. मोहल्ला वासियों ने जब उस मकान के अंदर तलाशी ली तो वहां खून से भरे कई बैग मिले और लगभग एक दर्जन लोग भी थे.

इनमें कुछ गरीब तबके के रिक्शा वाले भी मौजूद थे. उनके बारे में जब स्थानीय लोगों ने पूछताछ की तो कोई सटीक जवाब नहीं मिला और सभी भागने लगे. इस पर स्थानीय लोगों को शक हुआ तो कुछ लोगों को पकड़कर पिटाई की और मिठनपुरा पुलिस को सूचना देकर बुला लिया. पुलिस के साथ जब मकान मालकिन और मोहल्ले के लोग अंदर दाखिल हुए सभी के सभी दंग रह गए. उस मकान के अंदर खून से भरे 100 से ज्यादा बैग जहां-तहां पड़े हुए थे और ब्लड डोनेशन के लिए आवश्यक मेडिकल सामग्री भी मौजूद थी.

मकान मालकिन मधुबाला सिन्हा ने बताया कि एक बिचौलिये के जरिए ब्रह्मपुरा के नवीन और सूरज नामक युवकों ने ब्लड टेस्ट के नाम पर उनसे मकान किराए पर लिया था. मकान में खून निकालने के कारोबार की जानकारी उन्हें नहीं दी गई थी. पकड़े गए युवकों में एक मोहम्मद सद्दाम ने बताया कि इस गिरोह का सरगना नवीन है, जो गरीब लोगों से ₹1000 देखकर रक्तदान कराता है और फिर जरूरतमंदों को मुंह मांगी कीमत लेकर खून बेचा जाता है.

हालात देखने से स्पष्ट हो रहा था कि वहां  खून को सुरक्षित रखने का कोई भी उपाय नहीं था. ब्लड डोनेशन के लिए इन लोगों के पास कोई वैध आदेश भी नहीं था, इसीलिए मोहल्ला वालों के धावा बोलने के बाद नवीन और उसका एक साथी सूरज फरार हो गया. मिठनपुरा थाना पुलिस ने खून से बड़े सभी बैग और अन्य सामग्रियां जब्त कर ली है, पुलिस ने पूरे परिसर को सील कर दिया है और गिरफ्तार लोगों से पूछताछ कर रही है.

थानेदार भागीरथ प्रसाद ने बताया कि नवीन और सूरज की तलाश की जा रही है और गिरफ्तार लोगों से अन्य जानकारियां भी ली जा रही है. यह गिरोह कहां-कहां खून बेचता है और इससे जुड़े हुए और कौन-कौन से लोग हैं इसका पता लगाया जा रहा है. पूरे गिरोह का सफाया करने के लिए छानबीन में जुट गई है.

Tags: Bihar News, Blood bank, Blood Donation, Muzaffarpur news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर