Assembly Banner 2021

किसी भी वक्त गिरफ्तार हो सकते हैं बिहार के मंत्री रामसूरत राय के भाई, हाथ धोकर पीछे लगे थे तेजस्वी

नीतीश सरकार के मंत्री रामसूरत राय ने दे डाली नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को चुनौती...

नीतीश सरकार के मंत्री रामसूरत राय ने दे डाली नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को चुनौती...

Muzaffarpur News: एक साल पहले बिहार के मुजफ्फरपुर स्थित विद्यालय के परिसर से बड़ी मात्रा में शराब जब्त हुआ था. इस मामले में मंत्री के भाई समेत 15 लोगों को अभियुक्त बनाया गया था.

  • Share this:
मुुुजफ्फरपुर. बिहार के भूमि सुधार, राजस्व एवं कानून मंत्री रामसूरत राय (Bihar Minsiter Ramsurat Rai) के भाई हंसलाल राय कभी भी सलाखों के पीछे भेजे जा सकते हैं. मुजफ्फरपुर पुलिस ने हंसलाल राय की गिरफ्तारी की प्रक्रिया शुरू कर दी है. मंत्री के भाई पर शराब के कारोबार में संलिप्त होने का आरोप है. इसे लेकर बिहार विधानसभा (Bihar Assembly) का चालू सत्र काफी हंगामेदार रहा और मात्र एक मुद्दे को विपक्ष ने इस कदर उठाया कि पूरा का पूरा सत्र वह हंगामे की भेंट चढ़ गया है.

अब मुजफ्फरपुर पुलिस ने मंत्री के भाई हंसलाल राय की गिरफ्तारी के लिए कोर्ट से वारंट के लिए अर्जी दाखिल की है, जैसे ही वारंट हासिल होगी वैसे ही हंसलाल राय को गिरफ्तार कर लिया जाएगा. सूत्रों से यह भी खबर मिल रही है कि मंत्री के भाई सरेंडर भी कर सकते हैं. मामला नवंबर 2020 का है. हंसलाल राय द्वारा संचालित एक स्कूल से ट्रक और दो अन्य गाड़ियों के साथ भारी मात्रा में विदेशी शराब जब्त किया गया था. इस मामले में मंत्री के भाई समेत 15 लोगों को अभियुक्त बनाया गया था. इनमें से 5 को पुलिस पकड़ कर जेल भेज चुकी है.

मंत्री रामसूरत राय के भाई हंसलाल राय राजनीतिक रसूख की वजह से अब तक बचते आए, लेकिन अब उनके बचने की उम्मीद लगभग समाप्त हो गई है. इस बीच रामसूरत राय पर आरोपी भाई को संरक्षण देने का आरोप भी विपक्षी दल लगाते रहे हैं, जिसको लेकर रामसूरत राय ने कई स्तरों पर अपनी सफाई दी. मंत्री ने कहा था कि उनके भाई से 2012 में ही विधिवत बंटवारा हो चुका है, इसलिए शराब कारोबार के आरोपी भाई के किसी भी तरह के कारोबार या गतिविधि का संबंध मंत्री रामसूरत राय से नहीं है.



बिहार के मंत्री रामसूरत राय के भाई का स्कूल

बता दें कि बोचहां में अर्जुन मेमोरियल विद्या मंदिर नाम से स्कूल संचालित है, जिसके कर्ता-धर्ता मंत्री के भाई हंसलाल राय हैं. आरोपों के मुताबिक मंत्री रामसूरत राय को इसका संरक्षक बताया जाता है. यह विद्यालय मंत्री रामसूरत राय के पिता जी मुखिया और बोचहां के प्रमुख रहे अर्जुन राय के नाम पर रखा गया है. इसी विद्यालय के परिसर से नवंबर 2020 में भारी मात्रा में शराब जब्त हुआ था. इस मामले में वहां के थानाध्यक्ष राजेश रंजन ने बताया है कि गिरफ्तारी वारंट के लिए कोर्ट में अर्जी दाखिल की गई है. कोर्ट का आदेश मिलते ही कार्रवाई शुरू कर दी जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज