मुजफ्फरपुर शेल्टर होम: डायरी मिलने के बाद ब्रजेश ठाकुर के खिलाफ एक और FIR दर्ज

शनिवार को विशेष अभियान के तहत बिहार के सभी जिलों में स्थित जेलों में औचक छापेमारी की गई थी. मुजफ्फरपुर सेंट्रल जेल के मेडिकल वार्ड में भर्ती ब्रजेश ठाकुर को इसकी भनक भी नहीं थी और अचानक हुई छापेमारी के दौरान उसके बिस्तर के नीचे से डायरी मिली.

आलोक कुमार | News18 Bihar
Updated: August 12, 2018, 11:02 PM IST
मुजफ्फरपुर शेल्टर होम: डायरी मिलने के बाद ब्रजेश ठाकुर के खिलाफ एक और FIR दर्ज
ब्रजेश ठाकुर के खिलाफ एक और FIR दर्ज (file Photo)
आलोक कुमार
आलोक कुमार | News18 Bihar
Updated: August 12, 2018, 11:02 PM IST
मुजफ्फरपुर बालिका गृह सेक्स स्कैंडल मामले के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर के खिलाफ मिठनपुरा थाने में एक और एफआई दर्ज कराई गई है. मुजफ्फरपुर के खुदीराम बोस सेंट्रल जेल में बंद ब्रजेश ठाकुर के कब्जे से सीबीआई को एक डायरी मिली है जिसमें कथित तौर पर उन 40 लोगों के नंबर हैं जिनसे वह लगातार संपर्क में था. ठाकुर के अलावा अज्ञात के खिलाफ़ मामला दर्ज किया गया है.

शनिवार को विशेष अभियान के तहत बिहार के सभी जिलों में स्थित जेलों में औचक छापेमारी की गई थी. मुजफ्फरपुर सेंट्रल जेल के मेडिकल वार्ड में भर्ती ब्रजेश ठाकुर को इसकी भनक भी नहीं थी और अचानक हुई छापेमारी के दौरान उसके बिस्तर के नीचे से डायरी मिली. हालांकि छापेमार दस्ते को उसके कब्जे से कोई मोबाइल फोन नहीं मिला. सूत्रों के मुताबिक ब्रजेश ठाकुर ने यह बताने से इनकार कर दिया कि उसने डायरी में लोगों के नाम क्यों लिखे थे और क्या वह इन लोगों से जेल के भीतर से संपर्क में था. (पटना शेल्टर होम केस: 9 मिनट के फासले पर हुई थी दोनों युवतियों की मौत)

ब्रजेश ठाकुर मुज़फ़्फ़रपुर बालिका गृह यौन उत्पीड़न कांड का मुख्य आरोपी है. इस बालिका गृह का संचालन उसी के संरक्षण में चल रहे एनजीओ सेवा संकल्प एवं विकास समिति के जरिए हो रहा था. 26 जुलाई को राज्य सरकार ने इस मामले की जांच की जिम्मेदारी केंद्रीय एजेंसी सीबीआई को सौंप दी थी. सीबीआई ने ब्रजेश ठाकुर के एनजीओ और उसके अधिकारियों की चल -अचल संपत्ति की बिक्री पर रोक लगा दी है. (पटना के शेल्टर होम की दो युवतियों की मौत, 24 घंटे बाद पुलिस को मिली जानकारी)

मुजफ्फरपुर बालिका गृह सेक्स स्कैंडल का खुलासा टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज की सोशल ऑडिट रिपोर्ट से हुआ है. इस शेल्टर होम में रहने वाली 44 लड़कियों में से 34 नाबालिक लड़कियों के साथ रेप की पुष्टि हुई थी. (पटना शेल्टर होम में 10 अगस्त को ही हो गई थी युवतियों की मौत, 12 को पहुंचाया अस्पताल)
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर