लाइव टीवी

बैकफुट पर सरकार, मंत्री ने कहा- 31 मार्च तक नहीं हटेंगे नगर निकाय के अस्थाई कर्मचारी
Muzaffarpur News in Hindi

Praveen Thakur | News18Hindi
Updated: February 3, 2020, 9:47 PM IST
बैकफुट पर सरकार, मंत्री ने कहा- 31 मार्च तक नहीं हटेंगे नगर निकाय के अस्थाई कर्मचारी
सरकार के आदेश के बाद कर्मचारियों ने सड़कों पर कचरा फेंक कर विरोध जताया.

बिहार के नगर निकायों में हजारों कर्मचारी सालों से डेली वेज के आधार पर काम कर रहे हैं. अस्थाई तौर पर काम करने वाले कर्मचारी लगातार सेवा नियमित करने और अपनी मजदूरी को बढ़ाने को लेकर आंदोलन करते रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 3, 2020, 9:47 PM IST
  • Share this:
मुजफ्फरपुर. नगर निकाय के अस्‍थाई कर्मचारियों को हटाने का नोटिस जारी करने के बाद विरोध को देखते हुए सरकार बैकफुट पर आती दिख रही है. अब नगर विकास एवं आवास मंत्री सुरेश शर्मा ने कहा है कि किसी भी हाल में 31 मार्च से पहले नगर निगम या निकाय के अस्‍थाई कर्मचारियों को नहीं हटाया जाएगा. उल्लेखनीय है कि इससे पहले नगर विकास विभाग ने नगर निकाय के अस्थाई कर्मचारियों को हटाने संबंधित पत्र जारी किया था जो दरभंगा नगर निकाय को लेकर जारी किया गया था. दरभंगा नगर निकाय के मामले में सुनवाई करते हुए कोर्ट ने अस्थाई कर्मचारियों को हटाने का निर्देश दिया था. जिसके बाद आनन-फानन में नगर विकास विभाग ने दरभंगा मामले के फैसले को आधार बनाकर बिहार के सभी नगर निकायों में काम कर रहे अस्थायी कर्मचारियों को हटाने का आदेश संबंधित जिलों को दिया था.

आंदोलन पर उतर आए थे कर्मचारी
इस आदेश के आने के बाद मुजफ्फरपुर, दरभंगा और पटना समेत सूबे के अधिकांश नगर निकायों में अस्थाई कर्मचारी आंदोलन पर उतर आए थे. अब न्यूज 18 से खास बातचीत के दौरान मंत्री सुरेश शर्मा ने कहा कि सालों से नगर निकायों में काम कर रहे अस्थाई कर्मचारियों के बारे में विभाग 31 मार्च से पहले कोई ठोस निर्णय लेगा. विभाग कर्मचारियों के हित को ध्यान में रखकर ही कोई फैसला करेगा.

हजारों की संख्या में हैं कर्मचारी

बिहार के नगर निकायों में हजारों कर्मचारी सालों से डेली वेज के आधार पर काम कर रहे हैं. अस्थाई तौर पर काम करने वाले कर्मचारी लगातार सेवा नियमित करने और अपनी मजदूरी को बढ़ाने को लेकर आंदोलन करते रहे हैं. नगर विकास विभाग द्वारा जैसे ही नगर निकायों को अस्थाई कर्मचारियों को काम से हटाने का फरमान जारी हुआ पटना मुजफ्फरपुर, दरभंगा में सफाई व्यवस्‍था ठप हो गई.

कर्मचारियों का दर्द
सोमवार को मुजफ्फरपुर के नगर निगम में अस्थाई कर्मचारियों ने धरना देकर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया. कर्मचारी नेता अशोक राय ने बताया कि मुजफ्फरपुर में 12 सौ से अधिक अस्थाई कर्मचारी सालों से शहर वासियों की सेवा कर रहे हैं इनमें से कई कर्मचारियों की मौत भी हो गई. लेकिन विभाग ने इनकी सेवा को स्थाई नहीं किया. सरकार हमें हटाकर आउटसोर्सिंग के जरिए सफाई व्यवस्था शुरू करना चाह रही है.ये भी पढ़ेंः आउटसोर्सिंग का विरोध, कर्मचारियों ने लटकाए मरे जानवर, चौराहों पर फेंका कूड़ा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मुजफ्फरपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 3, 2020, 9:47 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर