लाइव टीवी

साहब की दबंगई- मिल वालों से वसूल कर 5 लाख रुपए दो नहीं तो नौकरी फंसा दूंगा

SUDHIR KUMAR | News18 Bihar
Updated: December 12, 2019, 2:53 PM IST
साहब की दबंगई- मिल वालों से वसूल कर 5 लाख रुपए दो नहीं तो नौकरी फंसा दूंगा
बिहार के मुजफ्फरपुर का वो दफ्तर जहां के अधिकारी ने अपने कनीय से 5 लाख रुपए मांगे

पूरा मामला बिहार के मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur) से जुड़ा है. इस मामले में जब न्यूज़ 18 ने आरोपी पदाधिकारी (Accused Officer) आरसीसीएफ तिरहुत रविशंकर प्रसाद से संपर्क किया तो उन्होंने कॉल का जवाब नहीं दिया और उन्होंने एक कॉल भी रिसीव नहीं किया.

  • Share this:
मुजफ्फरपुर. बिहार के मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur) में कमीशन मांगे जाने के दबाव में आकर विभाग के एक रेंज ऑफिसर (Range Officer) ने आत्महत्या (Suicide) की चेतावनी दी है. विभाग को भेजे गए पत्र में पूर्वी रेंज के पदाधिकारी मनोज कुमार ने अपने विभागीय पदाधिकारी आरसीसीएस रविशंकर प्रसाद पर 5 लाख रुपए जबरन देने के लिए मजबूर करने का आरोप लगाया है.

घर और दफ्तर में मांगते हैं घूस

मुजफ्फरपुर के डीएफओ को दिए पत्र में रेंज ऑफिसर ने कहा है कि कई महीनों से आरसीसीएफ उनसे 5 लाख रुपए मांग रहे हैं और नहीं देने पर परिणाम भुगतने की धमकी दे रहे हैं. 27/9 /2019 को पत्रांक 398 (गो.) से भेजे गए पत्र में पूर्वी रेंज के ऑफिसर मनोज कुमार ने डीएफओ सुधीर कुमार कर्ण को बताया है कि आरसीसीएफ रविशंकर प्रसाद मनोज कुमार को कभी घर में तो कभी दफ्तर में बुलाकर 5 लाख रुपए देने के लिए जलील करते हैं.

विभाग से की शिकायत

मनोज ने बताया कि रविशंकर प्रसाद कहते हैं कि आरा मिल वालों से रुपए वसूल कर दो नहीं तो ऐसी कार्रवाई करूंगा नौकरी फंस जाएगी. मनोज कुमार ने कहा है कि बार-बार जलील किए जाने से मानसिक प्रताड़ना के शिकार हैं और कभी भी आत्महत्या कर सकते हैं. मुजफ्फरपुर के डीएफओ सुधीर कुमार कर्ण ने भी टेलीफोन पर इस पत्र की पुष्टि की है. सुधीर कुमार कर्ण ने बताया कि रेंज ऑफिसर के पत्र को विभाग को अग्रसारित कर दिया गया है. इस मामले में जब न्यूज़ 18 पटना में पदस्थापित पीसीसीएफ यानी प्रिंसिपल चीफ कंजरवेटर ऑफ फॉरेस्ट एके पांडे से बात की उन्होंने भी इसकी पुष्टि की और कहा कि इस मामले को सरकार के पास भेज दिया है.

आरोपी ने नहीं दिया जवाब

इस मामले में जब न्यूज़ 18 ने आरोपी पदाधिकारी आरसीसीएफ तिरहुत रविशंकर प्रसाद से संपर्क किया तो उन्होंने कॉल का जवाब नहीं दिया और उन्होंने एक कॉल भी रिसीव नहीं किया. न्यूज़ 18 रिपोर्टर उनके कार्यालय पहुंचे तो हुए पिछले दरवाजे से भाग चले. डीएफओ को भेजे गए पत्र में मनोज कुमार ने आरोप लगाया है कि कर्ज लेकर उन्होंने डेढ़ लाख रुपए की राशि आरसीसीएफ को दे भी दिया है. बाकी बचे साढे तीन लाख के लिए आरसीसीऐफ़ लगातार मनोज कुमार को परेशान कर रहे हैं इससे वो तबाह हैं और काफी डिप्रेशन में जी रहे हैं.प्रधान सचिव के पास पहुंची शिकायत

सूत्रों के मुताबिक मनोज कुमार के शिकायत की फाइल वन विभाग के प्रधान सचिव दीपक कुमार के पास पहुंच चुकी है और उनके स्तर से इस मामले में कार्रवाई की प्रक्रिया चल रही है. यह भी जानकारी मिल रही है कि आरोपी आरसीसीएफ रविशंकर प्रसाद ने मनोज कुमार के खिलाफ विभिन्न प्रकार के आरोप लगाकर उन पर कार्रवाई करने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है और स्वयं ट्रेनिंग पर चले गए हैं. पीड़ित रेंज ऑफिसर मनोज कुमार ने दावा किया है कि घूस मांगने की ऑडियो क्लिप भी उनके पास मौजूद है जिसका वे आवश्यकता पड़ने पर उपयोग करेंगे.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मुजफ्फरपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 12, 2019, 2:49 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर