लाइव टीवी

खुलासा: कोचिंग आने वाली हर छात्रा को आजमाता था मुजफ्फरपुर का 'पापी प्रोफेसर', भेजा गया जेल

News18 Bihar
Updated: November 15, 2019, 12:42 PM IST
खुलासा: कोचिंग आने वाली हर छात्रा को आजमाता था मुजफ्फरपुर का 'पापी प्रोफेसर', भेजा गया जेल
ट्यूशन के बहाने छात्राओं का करता था यौन शोषण करता था मुजफ्फरपुर का प्रोफसर. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पत्रकारिता की पढ़ाई कर रही छात्राओं ने प्रोफेसर की अश्लील हरकतों का शिकार हुई छात्रा को हिम्मत दी और इन्हीं लड़कियों के सपोर्ट पर उसने अपने 'पापी गुरु' से अकेले भिड़ जाने का जोखिम उठाया.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: November 15, 2019, 12:42 PM IST
  • Share this:
मुजफ्फरपुर. छात्राओं के यौन शोषण (Sexual Exploitation) के आरोपी प्रोफेसर डॉ शीतल प्रसाद (Dr. Sheetal Prasad) की 'पाप कथा' की करतूतें परत दर परत खुल रही हैं. न्यूज 18 पर खबर दिखाए जाने के बाद प्रोफेसर जेल तो चला गया, लेकिन उसकी शिकार बनी अन्य लड़कियां भी अब सामने आ रही हैं. छात्रा के साथ यौन उत्पीड़न करने वाले 'पापी गुरु' का समाज भी उसके विरोध में उतर गया है और सख्त सजा की मांग कर रहा है. साथ ही उन छात्राओं को समाज सम्मानित कर रहा है जिन्होंने अपनी हिम्मत की बदौलत एक 'पाप कथा' पर विराम लगा दिया.

बता दें कि मुजफ्फरपुर के 'पापी प्रोफेसर' शीतल प्रसाद के कुकृत्यों का खुलासा न्यूज 18 ने किया था. उसे जेल भेजे जाने के बाद वे छात्राएं भी न्यूज 18 के सामने खुलकर आई हैं जिन्होनें पर्दे के पीछे रहते हुए न सिर्फ पीड़िता की मदद की बल्कि वहशी गुरु घंटाल को जेल भेजवाया.

ये बहादुर लड़कियां मुजफ्फरपुर में पत्रकारिता की पढ़ाई कर रही हैं और प्रोफेसर की अश्लील हरकतों का शिकार हुई छात्रा इनकी दोस्त हैं. इन्हीं लड़कियों के सपोर्ट पर उसने अपने 'पापी गुरु' से अकेले भिड़ जाने का जोखिम उठाया. न्यूज 18 पर खबर देखने के बाद इन छात्राओं ने संपर्क किया तो उन्होंने कुछ चौंकाने वाली बातें भी बताईं.

मुजफ्फरपुर, रंगीन मिजाज प्रोफेसर. यौन शोषण
मुजफ्फरपुर में रंगीन मिजाज प्रोफेसर को गिरफ्तार करने पहुंची पुलिस


दरअसल प्रो शीतल प्रसाद कोचिंग पढ़ने वाली हर छात्रा को आजमाता था. कुछ छात्राएं पढाई छोड़ देती थीं और कुछ पढ़ाई के लिए सितम बर्दाश्त करती थी. यह सिलसिला सालों से चल रहा था और शीतल प्रसाद समय के साथ और ढीठ होता जा रहा था. इस मामले में  छात्राएं दोषी को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग कर रही हैं.

इन छात्राओं की वीरता की कहानी जब कॉलेज में पहुंची तो उनके शिक्षकों नें उन्हें अपने दफ्तर बुलाया और छात्राओं की प्रशंसा की. वहीं ,एसएसपी जयंतकांत नें भी साफ कर दिया है कि दोषी चाहे कितना भी रसुखदार हो, छात्राओं का यौन शोषण करने वाले बख्शे नहीं जाएंगे.

रिपोर्ट- सुधीर कुमारये भी पढ़ें-

रैक प्वाइंट पर माल उतरवाने को लेकर दो गुटों में हिंसक झड़प, लहराए हथियार

गोपालगंज: जमीन के छोटे से हिस्से के लिए खूनी संघर्ष में 7 घायल,2 की हालत गंभीर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मुजफ्फरपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 15, 2019, 12:38 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर