Home /News /bihar /

मुजफ्फरपुर : सत्ताधारी पार्टी के नेता गजनफर हुसैन गिरफ्तार, बिजनेस पार्टनर को बर्बरता से पीटा

मुजफ्फरपुर : सत्ताधारी पार्टी के नेता गजनफर हुसैन गिरफ्तार, बिजनेस पार्टनर को बर्बरता से पीटा

विकास तिवारी ने अपने और गोलु के साथ बरती गई क्रूरता की पूरी कहानी बताई.

विकास तिवारी ने अपने और गोलु के साथ बरती गई क्रूरता की पूरी कहानी बताई.

गजनफर हुसैन और उसके सहयोगियों पर आरोप है कि अस्पताल के बिजनेस पार्टनर विकास तिवारी और ड्राइवर गोलु चौधरी को लोहे के रॉड से पीटा. इन दोनों के हाथ के नाखून प्लास से खींच कर निकाल दिए.

मुजफ्फरपुर. सत्ताधारी पार्टी जदयू के सीतामढ़ी विधानसभा प्रभारी गजनफर हुसैन ने अपने बिजनेस पार्टनर विकास तिवारी और उनके ड्राइवर गोलु चौधरी को लोहे के रॉड से बुरी तरह पीटा है. गजनफर हुसैन के इस काम में एक अन्य पार्टनर दिलीप साह और कुछ गुर्गों ने साथ दिया है. पीटे गए दोनों शख्स की पूरी पीठ पर रॉड के निशान हैं और पीठ लाल हो गई है. इन आरोपियों ने गोलु की दो अंगुलियों और विकास की एक अंगुली के नाखून प्लास से खींच लिए हैं. स्थानीय लोगों ने बीच-बचाव कर गोलु और विकास को औराई सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनका इलाज चल रहा है. इधर औराई पुलिस ने गजनफर हुसैन और उसके पार्टनर दिलिप साह को गिरफ्तार कर लिया है. इस मामले में गजनफर हुसैन दिलीप साह, नीरज कुमार, माहताब आलम और एक अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. पुलिस अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है.

नर्सिंग होम में पार्टनर थे सभी

दर्ज शिकायत के मुताबिक, गजनफर हुसैन ने औराई चौक पर पार्टनरशिप में एक प्राइवट नर्सिंग होम खोल रखा है. इस नर्सिंग होम में गजनफर हुसैन के पार्टनर के रूप में दिलीप, विकास और एक महिला थी. अच्छी कमाई होने पर गजनफर और दिलीप के मन में लालच आ गया. दोनों ने मिलकर विकास तिवारी और महिला पार्टनर को हटाने की साजिश रची. महिला पार्टनर तो मैदान से हट गई, लेकिन विकास तिवारी हटने को तैयार नहीं था. इसी वजह से गजनफर ने यह साजिश रची.

पूरी योजना के साथ की गई पिटाई

अहियापुर के बैरिया में रहने वाले विकास को दिलीप ने शनिवार को अस्पताल में बुलाया. विकास अपने साथ ड्राइवर गोलु चौधरी को ले गया. औराई स्थित नर्सिंग होम में पहुंचते ही दिलीप ने जेनेरेटर स्टार्ट करवा दिया और गेट बंद कर दिया. दोनों पर जानलेवा हमले की तैयारी पहले से थी. ऊपरी तल्ले पर पहुंचते ही दिलीप ने पहले सीसीटीवी कैमरा बंद कर दिया और स्लाइन टांगने वाले रॉड से दोनों को पीटना शुरू कर दिया. इसमें अस्पताल के स्टाफ माहताब, नीरज और एक अन्य भी शामिल थे. माहताब ने पिस्टल निकाल कर दोनों को डरा दिया और पिस्टल के बट से भी पीटने लगा. इधर जेनेरेटर की आवाज से रोने चिल्लाने की आवाज बाहर नहीं जा रही थी. इसी बीच आरोपियों ने गोलु की दो अंगुलियों और विकास की एक अंगुली के नाखून प्लास से खींच लिए. ज्यादा जोर से चिल्लाने पर आवाज बाहर गई, तो स्थानीय लोग जुटने लगे. स्थानीय लोगों की सूचना पर पुलिस अस्पताल पहंची तो घायलों को छोड़कर सभी भाग गए. बाद में गजनफर हुसैन अपना राजनैतिक रसूख बघारने पहुंचा तो पुलिस ने उसे और दिलीप को गिरफ्तार कर लिया.

थानाध्यक्ष ने कहा - वारदात काफी बर्बर

औराई थाना के थानाध्यक्ष राजेश कुमार ने फोन पर बताया कि वारदात काफी बर्बर है. दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. शेष तीन को दबोचने के लिए पुलिस कार्रवाई कर रही है.

Tags: Accused arrested, Jdu, Muzaffarpur news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर