मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार से 131 बच्चों की मौत, SKMCH के सीनियर डॉक्टर सस्पेंड

मुजफ्फरपुर के श्री कृष्णा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (एसकेएमसीएच) के सीनियर रेजिडेंट डॉक्टर को ड्यूटी में लापरवाही बरतने के आरोप में निलंबित कर दिया गया है. निलंबित सीनियर रेजिडेंट डॉक्टर का नाम डॉ. भीमसेन कुमार है.

News18 Bihar
Updated: June 23, 2019, 10:03 AM IST
मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार से 131 बच्चों की मौत, SKMCH के सीनियर डॉक्टर सस्पेंड
मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार से 130 बच्चों की मौत, SKMCH के सीनियर डॉक्टर निलंबित
News18 Bihar
Updated: June 23, 2019, 10:03 AM IST
बिहार के मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार से बच्चों की लगातार हो रही मौत के बीच यहां के श्री कृष्णा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (एसकेएमसीएच) के सीनियर रेजिडेंट डॉक्टर को ड्यूटी में लापरवाही बरतने के आरोप में निलंबित कर दिया गया है. निलंबित सीनियर रेजिडेंट डॉक्टर का नाम डॉ. भीमसेन कुमार है. बता दें कि 19 जून को स्वास्थ्य विभाग ने पटना मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (पीएमसीएच) के बाल रोग विशेषज्ञ की एसकेएमसीएच में तैनाती कर दी थी.

बिहार में अब तक 163 बच्चों की मौत
बिहार में एक्यूट इन्सेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) यानी चमकी बुखार से अब तक 163 बच्चों की मौत हो चुकी है. इनमें सिर्फ मुजफ्फरपुर में ही 131 बच्चों की मौत हुई है, जबकि करीब 650 से अधिक मरीज प्रभावित हुए हैं. वहीं SKMCH और केजरीवाल अस्पताल में 131 बच्चे इलाजरत हैं. मुजफ्फरपुर जिले में ही अब तक 580 बच्चे बीमारी से प्रभावित हो चुके हैं.


Loading...

एसकेमसीएच से नर कंकाल बरामद
वहीं शनिवार को एसकेमसीएच से एक नया मामला सामने आ रहा है. यहां पर नर कंकाल मिलने से हड़कंप मच गया है. मीडिया में खबर आने के बाद प्रशासन ने मामले की जांचे के आदेश दिए हैं. इस पर एसकेमसीएच के अधीक्षक डॉ. एसके शाही ने इस मामले की जांच के लिए एक टीम गठित की है. प्राचार्य और अधीक्षक की टीम संयुक्त रूप से इस मामले की जांच करेगी.

डॉ. एसके शाही ने कहा कि यह बिल्कुल अमानवीय है. इसके साथ ही यह पुलिस और अस्पताल कर्मियों की लापरवाही भी है. उन्होंने यह भी कहा कि सरकार शव की अंत्येष्टि के लिए 2000 रुपए देती है. उसके बाद भी इस तरह के मामले सामने आ रहे हैं. अस्पताल प्रशासन ने मामले को गंभीरता से लिया है.

अस्पताल में मिले नर कंकाल के मामले पर स्वास्थ्य विभाग ने तुरंत संज्ञान लिया है. स्वास्थ्य विभाग के एडिशनल सेक्रेटरी कौशल किशोर ने अधीक्षक के साथ बैठक की है. डीएम आलोक रंजन घोष ने भी मामले पर रिपोर्ट तलब की है. मौके पर पहुंचकर पुलिस ने घटनास्थल का जायजा लिया. एसपी सिटी और एसडीएम के साथ पुलिस की टीम भी स्पॉट पर पहुंची थी.

ये भी पढ़ें - चमकी बुखार: मौत का आंकड़ा 160 के पार, सेंट्रल टीम ने की जांच

बिहार पहुंचा मानसून, AES पीड़ित बच्चों को मिल सकती है राहत
First published: June 23, 2019, 8:28 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...