• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • मुजफ्फरपुर बालिका गृह रेप केस: मामले की जांच को पहुंची सीबीआई की 12 सदस्यीय टीम

मुजफ्फरपुर बालिका गृह रेप केस: मामले की जांच को पहुंची सीबीआई की 12 सदस्यीय टीम

मुजफ्फरपुर पहुंची सीबीआई की टीम

मुजफ्फरपुर पहुंची सीबीआई की टीम

बिहार के इस मामले में विपक्ष लगातार सीबीआई जांच की मांग कर रहा था जिसके बाद राज्य सरकार ने सीबीआई जांच की सिफारिश की थी.

  • Share this:
    बिहार के मुजफ्फरपुर बालिका गृह रेप केस में सीबीआई ने केस दर्ज कर लिया है. केस दर्ज करने के साथ ही सीबीआई की एक टीम मुजफ्फरपुर पहुंची. सीबीआई के एसपी जेपी मिश्रा बालिका गृहकांड की जांच को टीम मुज़फ़्फ़रपुर पहुंच चुकी है.

    सीबीआई के एसपी जय प्रकाश मिश्रा के नेतृत्व में 12 अधिकारियों का दल मुज़फ़्फ़रपुर पहुंचा है जिसमें एक महिला अधिकारी भी शामिल है जो केस की अनुसंधानक है. फिलहाल टीम अपने कैम्प कार्यालय में टिकी हुई है. इस बीच दो गाड़ियों से 6 अधिकारी निकले हैं. उन्होंने पूरे मामले में मीडिया को कुछ नहीं बताया.

    महिला पुलिस स्टेशन मुज़फफ़रपुर के केस नम्बर 33/2018 की जांच अब सीबीआई के हवाले हो गई है. सीबीआई बालिका गृह में रहने वाली बच्चियों के साथ हुए मानसिक, शारीरिक और यौन उत्पीड़न की जांच करेगी. इस मामले में बालिका गृह के अधिकारियों और कर्मचारियों पर केस दर्ज किया गया है.

    ये भी पढ़ें-  भारी बारिश से तालाब बना पटना का अस्पताल, ICU में तैरती दिखी मछलियां

    इसस पहले सीबीआई ने राज्य पुलिस से एफआईआर की कॉपी मांगी थी. बिहार के इस मामले में विपक्ष लगातार सीबीआई जांच की मांग कर रहा था जिसके बाद राज्य सरकार ने सीबीआई जांच की सिफारिश की थी. सीेएम नीतीश कुमार ने पूरे मामले में सीबीआई जांच की अनुशंसा की थी. रविवार को मामले में केस दर्ज करने से पहले शनिवार की रात सीबीआई के एक कॉन्सटेबल ने आईओ ज्योति कुमारी से एफआईआर की कॉपी केस स्टडी के लिए थी.

    ये भी पढ़ें- मुज़फ्फरपुर चिल्ड्रेन होम बन गया हॉरर होम, देखिए अंदर की पहली तस्वीरें

    गौरतलब है कि टीआईएसएस ने 7 महीनों तक 38 जिलों के 110 संस्थानों का सर्वेक्षण किया. इस सर्वेक्षण में बिहार के शेल्टर होम्स को लेकर खुलासे हुए थे. एक और चौंकाने वाला तथ्य यह है कि शोषण की शिकार हुई सभी बच्चियां 18 साल से कम उम्र की हैं. इनमें भी ज्यादातर की उम्र 07 से 14 साल के बीच है. इस रिपोर्ट से साफ पता चलता है कि मुजफ्फरपुर बालिका गृह में हुए यौन उत्पीड़न में बाल कल्याण समिति के सदस्य और संगठन के प्रमुख भी बच्चियों के शोषण में शामिल थे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज