मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड: ब्रजेश ठाकुर की संपत्ति होगी अटैच, काली कमाई के खिलाफ ED की कार्रवाई तेज
Muzaffarpur News in Hindi

मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड: ब्रजेश ठाकुर की संपत्ति होगी अटैच, काली कमाई के खिलाफ ED की कार्रवाई तेज
मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर की फाइल फोटो

Muzaffarpur Shelter Home Case: बिहार के इस बहुचर्चित केस में उम्रकैद की सजा काट रहे ब्रजेश ठाकुर पर कोर्ट ने 32 लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया है

  • Share this:
मुजफ्फरपुर. बिहार के चर्चित बालिका गृह कांड में एक बार फिर प्रवर्तन निदेशालय यानि ईडी (ED) की कार्रवाई तेज हो गई है. ईडी ने मुजफ्फरपुर से पटना और दिल्ली समेत उत्तर बिहार के अलग-अलग जिलों में इस कांड के मुख्य सरगना ब्रजेश ठाकुर (Brajesh Thakur) द्वारा अर्जित संपत्ति को जब्त करने की कार्रवाई को तेज कर दी है. एक साल पहले ही ब्रजेश ठाकुर और उनके परिवार के सदस्यों के नाम पर अर्जित की गई संपत्ति को लेकर केस दर्ज किया गया था, जिसके बाद ईडी ने ब्रजेश ठाकुर के बेटे और पत्नी से पटना में पूछताछ की थी. समस्तीपुर के अमीरगंज स्थित ब्रजेश ठाकुर के मकान को अटैचमेंट के लिए नोटिस जारी किया गया है. मुजफ्फरपुर में भी ईडी सम्पत्ति जब्ती की कार्रवाई करेगी.

ईडी ने पटना की विशेष अदालत में इस मामले में 26 अगस्त को चार्जशीट दायर किया है. चार्जशीट में 8 करोड़ से अधिक की संपत्ति को दर्शाया गया है जो ब्रजेश ठाकुर और उनके परिवार के सदस्यों द्वारा अर्जित की गई है. चार्जशीट में यह भी बताया गया है कि किस प्रकार बिहार सरकार के समाज कल्याण विभाग द्वारा बालिका गृह संचालित करने वाली संस्था को साढ़े सात करोड़ से अधिक की राशि दी गई. ब्रजेश ठाकुर और उनके परिवार के सदस्यों द्वारा अर्जित की गई कमाई को गलत तरीके से अर्जित किया हुआ बताते हुए यह चार्जशीट दाखिल की गई है. अब मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत उन तमाम संपत्तियों को प्रोविजनल अटैचमेंट करना ईडी ने शुरू की है.

उम्र कैद की सजा काट रहा है ब्रजेश ठाकुर 



मुजफ्फरपुर के चर्चित बालिका गृह कांड में सीबीआई जांच के बाद दिल्ली की साकेत कोर्ट ने इस मामले में जनवरी 2020 में ब्रजेश ठाकुर समेत उनके सहयोगियों के खिलाफ सजा सुनाई थी. ब्रजेश ठाकुर को इस मामले में 32 लाख का जुर्माना लगा था और ताउम्र जेल में रहने की सजा कोर्ट ने दी थी. ब्रजेश के  साथ ही 19 लोग इस मामले में सजा सुनाई गई थी. नाबालिग बच्चों के यौन शोषण, मारपीट सहित कई गंभीर धाराओं में सीबीआई जांच के बाद कोर्ट ने सजा सुनाई थी.
ब्रजेश ठाकुर ठाकुर की है पटना से दिल्ली तक संपत्ति
बालिका गृह कांड में सजा काट रहे मुख्य सरगना ब्रजेश ठाकुर की मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर समेत उत्तर बिहार के अलग-अलग जिलों में काफी संपत्तियों का पता चला है. मुजफ्फरपुर के कई अंचलों में ब्रजेश ठाकुर के परिवार के सदस्यों के नाम जमीन का पता चला है. ईडी पहले ही इस मामले में नोटिस भेज कर ब्रजेश की पत्नी आशा देवी और बेटे राहुल आनंद से पूछताछ कर चुकी है. बिहार के अलावा राजधानी पटना और दिल्ली के पालम हवाई अड्डे के पास ब्रजेश ठाकुर के मकान और फ्लैट का पता चला है. इस मामले में कोर्ट में चार्जशीट करने के साथ ही संपत्ति को जब्त करने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज