Home /News /bihar /

विजिलेंस कर रही है जांच, अब नीतीश सरकार ने बना दिया उसी विभाग का SP

विजिलेंस कर रही है जांच, अब नीतीश सरकार ने बना दिया उसी विभाग का SP

निगरानी की विशेष अदालत में नवल किशोर सिंह के खिलाफ बेतिया में बतौर डीएसपी और पटना में सीआईडी एसपी के तौर पर पदस्थापना के दौरान साल 2000 से 2012 के बीच 1 करोड़ 20 लाख 44 हजार 399 रुपए आय से अधिक अर्जित करने का आरोप लगाया है.

निगरानी की विशेष अदालत में नवल किशोर सिंह के खिलाफ बेतिया में बतौर डीएसपी और पटना में सीआईडी एसपी के तौर पर पदस्थापना के दौरान साल 2000 से 2012 के बीच 1 करोड़ 20 लाख 44 हजार 399 रुपए आय से अधिक अर्जित करने का आरोप लगाया है.

निगरानी की विशेष अदालत में नवल किशोर सिंह के खिलाफ बेतिया में बतौर डीएसपी और पटना में सीआईडी एसपी के तौर पर पदस्थापना के दौरान साल 2000 से 2012 के बीच 1 करोड़ 20 लाख 44 हजार 399 रुपए आय से अधिक अर्जित करने का आरोप लगाया है.

नीतीश सरकार के भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति पर सवाल उठने लगे हैं. शुक्रवार को पुलिस अधिकारियों के तबादले के बाद पटना निगरानी एसपी के पद पर नवल किशोर सिंह की पोस्टिंग की गई है.

आय से अधिक संपत्ति के मामले में निगरानी एसपी नवल किशोर सिंह के खिलाफ मुजफ्फरपुर की विशेष निगरानी अदालत ने साल 2015 में पटना निगरानी एसपी को जांच का आदेश दिया था.

अदालत द्वारा जांच के आदेश के आठ महीने बीतने के बाद भी अबतक निगरानी एसपी ने कोई रिपोर्ट अदालत में नहीं भेजी लेकिन इस बीच सरकार ने पटना निगरानी एसपी के पद पर ही नवल किशोर सिंह की नियुक्ति कर दी है. यानि खुद आरोपों की जांच अब निगरानी एसपी के जिम्मे आ गई है.

मुजफ्फरपुर के रवीन्द्र कुमार सिंह ने निगरानी की विशेष अदालत में नवल किशोर सिंह के खिलाफ बेतिया में बतौर डीएसपी और पटना में सीआईडी एसपी के तौर पर पदस्थापना के दौरान साल 2000 से 2012 के बीच 1 करोड़ 20 लाख 44 हजार 399 रुपए आय से अधिक अर्जित करने का आरोप लगाया है. यह रकम निगरानी एसपी नवलकिशोर सिंह के आय से तीन गुणा अधिक बताया गया है.

मुजफ्फरपुर की विशेष निगरानी कोर्ट ने वादी द्वारा आय से अधिक संपत्ति मामले में कोर्ट में साक्ष्य देखने के बाद नवल किशोर सिंह के खिलाफ जांच का आदेश दिया था.

लोजपा के प्रदेश महासचिव और अधिवक्ता सुधीर कुमार ओझा ने इस मामले में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि सीएम के जिम्मे निगरानी विभाग है. इसके बावजूद भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरे अधिकारी को निगरानी का एसपी बनाया गया है.

 

Tags: Muzaffarpur news, मुजफ्फरपुर

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर