लाइव टीवी

थानेदार ने तीन साल तक नहीं सुनी शिकायत, अब सिरफिरे आशिक ने युवती को जिंदा जलाया

News18 Bihar
Updated: December 9, 2019, 2:07 PM IST
थानेदार ने तीन साल तक नहीं सुनी शिकायत, अब सिरफिरे आशिक ने युवती को जिंदा जलाया
मुजफ्फरपुर में सिरफिरे आशिक ने युवती को जिंदा जलाया

बिहार के मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur) में हुई इस घटना की जानकारी देते हुए पीड़िता की मां के आंखों से बह रहे आंसू थम नहीं रहे. वो कहती हैं कि इस घटना के लिए अगर कोई जिम्मेवार है तो वो है स्थानीय अहियापुर थाना के SHO.

  • Share this:
रिपोर्ट- अमित कुमार

मुजफ्फरपुर. मानवता को झकझोरने वाली एक और घटना बिहार (Bihar) से आई है. इस बार मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur) में एक सिरफिरे आशिक ने युवती पर केरोसिन का तेल डालकर उसे जलाने (Burnt Alive) का प्रयास किया. इस घटना के दौरान युवती 90 प्रतिशत तक जल गई है और उसकी हालत नाजुक बनी हुई है. जैसे ही इस बात की खबर पीड़ित युवती के परिजनों को मिली तो वे आनन-फानन में उसे पहले एक निजी अस्पताल ले गए. लेकिन यहां पीड़िता के परिवार की आर्थिक तंगी आड़े आ गई, जिसकी वजह से उसे इलाज के लिए SKMCH ले जाया गया. SKMCH में उसका इलाज कर रहे डॉक्टरों के मुताबिक पीड़िता की हालत बेहद नाजुक बनी हुई है.

तीन साल तक शिकायत अनसुनी करते रहे थानेदार
इस पूरे मामले में पुलिस और इलाके के थानेदार पर पीड़िता के परिजनों ने संगीन आरोप लगाए हैं. घटना की जानकारी देते हुए पीड़िता की मां के आंखों से बह रहे आंसू थम नहीं रहे. वो कहती हैं कि इस घटना के लिए अगर कोई जिम्मेवार है तो वो स्थानीय अहियापुर थाना के SHO, क्योंकि पिछले 3 साल से यह युवक इनकी बेटी को परेशान कर रहा था. इसकी लगातार शिकायत वह अहियापुर के SHO से करती रहीं, लेकिन पुलिस के कान पर जूं नहीं रेंगा और आज इन्हें यह दिन देखना पड़ा. कुछ ऐसा ही दर्द पीड़ित के भाई के सीने से भी निकल रहा है. भाई का कहना कि अगर पुलिस ने समय रहते कार्रवाई की होती तो आज न उस युवक की हिम्मत इतनी बढ़ी होती और ना ही मेरी बहन का यह हाल हुआ होता.

90 फीसदी जल चुकी है पीड़िता
SKMCH के अधीक्षक डॉ. सुनील कुमार साहिल की मानें तो पीड़िता बेहद बुरी तरह जली हुई है और उसका बचना मुश्किल लग रहा है. उन्होंने कहा कि अगर उसकी हालत में थोड़ा भी सुधार हुआ तो उसे फौरन पटना रेफर कर दिया जाएगा. इस बीच मुजफ्फरपुर के SSP जयंतकांत ने कहा कि अगर इस मामले में कहीं से कोई लापरवाही स्थानीय पुलिस की पाई गई तो निश्चित तौर पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी. हालांकि जयंतकांत ने यह भी कहा कि रविवार को हुई इस घटना में अहियापुर पुलिस ने बेहतर काम किया है. घटना की सूचना मिलते ही फौरन आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया और अब आगे की कार्रवाई की जा रही है.

ये भी पढ़ें- Delhi Fire: शाकिर की मौत ने तीन मासूमों के सिर से छीन लिया पिता का सायाये भी पढ़ें- दिल्ली हादसे में बिहार के 30 मजदूरों की मौत, कुछ ने बिल्डिंग से कूदकर बचाई जान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मुजफ्फरपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 9, 2019, 1:01 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर