हिलसा विधानसभा सीट: आरजेडी के सामने सीट बचाने की बड़ी चुनौती

आरजेडी विधायक शक्ति सिंह यादव (फाइल फोटो)
आरजेडी विधायक शक्ति सिंह यादव (फाइल फोटो)

Hilsa Assembly Seat: 2000 के बाद हुए तीन चुनावों में हिलसा सीट पर जेडीयू का कब्जा रहा. लेकिन पिछले चुनाव में आरजेडी ने इस सीट पर कब्जा जमा लिया. आरजेडी के शक्ति सिंह यादव यहां से विधायक हैं.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: September 26, 2020, 6:22 PM IST
  • Share this:
नालंदा. बिहार के नालंदा जिले में पड़ने वाली हिलसा विधानसभा सीट (Hilsa Assembly Seat) साल 1957 में अस्तित्व में आई. जिले के अन्य सीटों की तरह ये सीट भी नालंदा लोकसभा क्षेत्र का हिस्सा है. फिलहाल इस सीट पर आरजेडी का कब्जा है. आरजेडी के शक्ति सिंह यादव यहां के विधायक हैं. 2015 से पहले के तीन चुनावों में यहां पर लगातार जेडीयू का कब्जा रहा.

चुनावी इतिहास 

हिलसा विधानसभा सीट पर साल 1957 के पहले चुनाव में कांग्रेस के लाल सिंह त्यागी को जीत मिली. लेकिन 1962 का चुनाव लाल सिंह त्यागी निर्दलीय जगदीश प्रसाद से हार गये. फिर 1967 के चुनाव में कांग्रेस के एके सिंह को जीत मिली, जिन्होंने जगदीश प्रसाद को हराया. उसके बाद 1985 में कांग्रेस को कब्जा जमाने का मौका मिला. कांग्रेस के सुरेन्द्र प्रसाद तरुण ने जीत हासिल की. बीच के तीन चुनावों को जगदीश प्रसाद को जीत मिली. वे दो बार निर्दलीय और एक बार बीजेपी के टिकट पर चुनाव जीते. 1990, 1995 और 2000 के चुनाव में यहां निर्दलीयों ने बाजी मारी. 2005 में जेडीयू ने इस सीट पर अपना कब्जा जमाया. पार्टी यहां तीन बार लगातार जीत हासिल करती रही. 2005 में हुए दो चुनावों में जेडीयू के रामचरित्र प्रसाद सिंह जीते. इससे पहले 2000 के चुनाव में वो निर्दलीय विजयी हुए थे. 2010 के चुनाव में जेडीयू के ऊषा सिन्हा ने एलजेपी के रीना देवी को पटखनी दी थी.



हिलसा सीट से सबसे ज्यादा चार बार जगदीश प्रसाद विधायक चुके गये. उसके बाद जेडीयू के रामचरित्र प्रसाद सिंह 3 बार विजयी हुए.
2015 चुनाव का हाल

पिछले विधानसभा चुनाव में हिलसा सीट पर 53.49% वोटिंग हुई थी. आरजेडी के शक्ति सिंह यादव ने एलजेपी की दीपिका कुमार को करीब 26 हजार मतों से हराया था. शक्ति सिंह को 72,347 जबकि दीपिका को 46,271 मत प्राप्त हुए थे.

सामाजिक स्वरूप 

हिलसा विधानसभा क्षेत्र में मतदाताओं की कुल संख्या 2,64,309 है. जिसमें से 1,40,074 पुरुष और 1,24,309 महिला मतदाता हैं. परबलपुर, करई परसुराई, थरथरी और हिलसा प्रखंड इस क्षेत्र में शामिल हैं. 2011 की जनगणना के मुताबिक यहां की कुल आबादी 4,09,969 है. जिसमें से 87.55% जनसंख्या गांव में और 12.45% शहर में रहते हैं. कुल जनसंख्या का 18.27 फीसदी एससी और 0.04 प्रतिशत एसटी की आबादी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज