इस्लामपुर विधानसभा सीट: क्या लगातार 5वीं बार अपना कब्जा बरकरार रख पाएगा जेडीयू?

जेडीयू विधायक चंद्रसेन प्रसाद (फाइल फोटो)
जेडीयू विधायक चंद्रसेन प्रसाद (फाइल फोटो)

इस्लामपुर विधानसभा सीट (Islampur Assembly Seat) से सबसे ज्यादा 4 बार रामस्वरूप प्रसाद ने जीत का परचम लहराया. इनमें से एक बार कांग्रेस, दो बार जेडीयू और एक बार निर्दलीय चुनाव लड़कर उन्होंने जीत हासिल की.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: September 26, 2020, 5:27 PM IST
  • Share this:
नालंदा. बिहार के नालंदा जिले में पड़ने वाली इस्लामपुर विधानसभा सीट (Islampur Assembly Seat) आजादी के बाद साल 1951 में अस्तित्व में आई. यह नालंदा लोकसभा क्षेत्र का हिस्सा है. इस सीट पर फिलहाल जेडीयू का कब्जा है. जेडीयू के चंद्रसेन प्रसाद यहां के विधायक हैं. इस सीट पर 2005 से जेडीयू का विजय पताका फहरा रहा है. पार्टी लगातार 4 बार जीत दर्ज करा चुकी है.

चुनावी इतिहास

इस्लामपुर सीट पर 1951 में हुए पहले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को जीत मिली थी. हालांकि अगले 1962 के चुनाव में कांग्रेस को हार का सामना करना पड़ा था. 1967 के चुनाव में कांग्रेस फिर से चुनाव जीती. उसके बाद 1980 और 1985 के चुनाव में कांग्रेस को विजय का स्वाद मिला. बीच के 3 चुनावों में निर्दलीय और सीपीआई को जीत हासिल हुई. 1990 और 1995 के चुनाव में सीपीआई के कृष्ण बल्लभ प्रसाद लगातार दो बार चुनाव जीते. उसके बाद लगातार तीन चुनाव रामस्वरूप प्रसाद जीते. इनमें से दो बार जेडीयू के टिकट पर उन्होंने जीत हासिल की. 2010 में जेडीयू के राजीव रंजन यहां से जीत हासिल की. इस्लामपुर सीट से सबसे ज्यादा 4 बार रामस्वरूप प्रसाद ने जीत का परचम लहराया. इनमें से एक बार कांग्रेस, दो बार जेडीयू और एक बार निर्दलीय चुनाव लड़कर उन्होंने जीत हासिल की.



2015 के चुनाव का हाल 
2015 के चुनाव में जेडीयू ने बीजेपी को हराकर इस सीट को अपने पास बरकरार रखा. जेडीयू के चंद्रसेन प्रसाद ने बीजेपी के बिरेन्द्र गोप को 12 हजार से ज्यादा मतों से मात दी. चंद्रसेन प्रसाद को 66,587 जबकि बिरेन्द्र गोप को 43,985 वोट मिले थे. कुल 53.06% मतदान हुआ था.

सामाजिक स्वरूप 

इस्लामपुर विधानसभा क्षेत्र में एकंगरसराय और इस्लामपुर प्रखंड पड़ते हैं. यहां कुल मतदाता 2,58,811 हैं. जिनमें से 1,37,998 पुरुष और 1,20,802 महिला मतदाता हैं. 2011 की जनगणना के मुताबिक यहां की कुल जनसंख्या 4,03,551 है. जिसमें से 89.51% ग्रामीण और 10.49% शहरी आबादी है. कुल जनसंख्या का 17.28 प्रतिशत एससी और 0.05 फीसदी एसटी हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज