औंचक निरीक्षण में गायब मिले कर्मचारी, डीएम को सीडीपीओ का नाम तक नहीं बता सके बीडीओ

डीएम ने इस मामले में निराशा जताते हुए और कड़ा रुख अपनाते हुए सभी अनुपस्थित कर्मियों का वेतन बंद करते हुए स्पष्टीकरण की मांग की है

News18 Bihar
Updated: March 5, 2019, 4:42 PM IST
औंचक निरीक्षण में गायब मिले कर्मचारी, डीएम को सीडीपीओ का नाम तक नहीं बता सके बीडीओ
जांच के लिए पहुंचे डीएम
News18 Bihar
Updated: March 5, 2019, 4:42 PM IST
बिहार के नालन्दा जिला मुख्यालय बिहारशरीफ स्थित सदर प्रखंड कार्यालय का वहां के डीएम योगेंद्र सिंह ने औंचक निरीक्षण किया. इस दौरान सीओ अरुण कुमार सिंह समते दो-तीन कर्मचारियों को छोड़कर बीडीओ, सीडीपीओ, एमओ, समेत कोई भी कर्मचारी और पदाधिकारी उपस्थित नहीं हो पाये.

जांच के दौरान जब डीएम योगेंद्र सिंह ने बीडीओ से सीडीपीओ का नाम पूछने लगे तो बीडीओ सीडीपीओ का नाम तक नहीं बता पाये. डीएम ने इस मामले में निराशा जताते हुए और कड़ा रुख अपनाते हुए सभी अनुपस्थित कर्मियों का वेतन बंद करते हुए स्पष्टीकरण की मांग की है साथ ही सभी कर्मचारियों और अधिकारियों की उपस्थिति पंजी को जांच पड़ताल करने के लिए जब्त कर लिया.



ये भी पढ़ें- 24 घंटे का पहरा और तीन गार्ड्स की तैनाती को ठेंगा दिखाकर शेल्टर होम से फरार हुई युवती

इस दौरान उन्होंने सभी पदाधिकारी व कर्मचारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि आगे से यही हाल रहा तो सभी अनुपस्थित लोगों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई के लिए सरकार को लिखा जायेगा. उन्होंने कहा कि आम जनता से खिलवाड़ करने वाले पदाधिकारी या तो नौकरी करें या रिजाइन कर घर में आराम करें. डीएम ने सभी को हिदायत देते हुए कहा कि कर्मचारी हों या पदाधिकारी पटना से आना जाना बन्द करें और मुख्यालय में रहकर ही अपना काम करें. डीएम के इस औंचक निरीक्षण से सरकारी महकमे में हड़कंप मचा रहा.

रिपोर्ट- अभिषेक कुमार
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...