अपना शहर चुनें

States

CM नीतीश के गृह जिले में आधी रात को टॉर्च की रोशनी में किसान क्यों तोड़ रहे सब्जियां? जानें वजह

53 किसानों पर दर्ज किए गए हैं केस.
53 किसानों पर दर्ज किए गए हैं केस.

फिलहाल 53 नामजद व सैकड़ों अज्ञात किसानों के ऊपर दर्ज केस को वापस लेने की मांग की जा रही है.

  • Share this:
नालंदा. एक तरफ कोरोना वायरस के संक्रमण (Corona virus infection) के खतरे के बीच पुलिस-प्रशासन सख्ती कर रही है वहीं किसानों की भी अपनी अलग समस्या है. खेतों में सब्जियों की फसल खड़ी है पर बाजार तक पहुंचाने में काफी मशक्कत करनी पड़ती है. वहीं पुलिस-प्रशासन के डंडे का डर अलग ही रहता है. इसी क्रम में कहीं-कहीं पुलिस-प्रशासन की रवैये से जिले के किसान काफी भयभीत नजर आ रहे हैं. आलम ये है कि सीएम नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के गृह जिले नालंदा (Nalanda) के कुछ इलाकों के किसान आधी रात में टॉर्च की रोशनी में सब्जियां तोड़ते देखे जा सकते हैं.

टॉर्च की रोशनी में सब्जी तोड़ रहे किसान

किसान कहते हैं कि जानवर व सांप व बिच्छुओं के काटने का डर रहता है पर टॉर्च की रोशनी में ही फसल तोड़ने के लिए हम मजबूर हैं. किसानों का आरोप है कि हमलोग इसलिए आधी रात को अपनी मेहनत से उगायी गयी सब्जी तोड़ते हैं क्योंकि दिन में तोड़ने के बाद सब्जी मंडी ले जाने और उसके बाद बेचकर वापस लौटने के क्रम में पुलिस पिटाई करती है. कोरोनाबंदी का हवाला देकर लाठी-डंडा चलाया जाता है. जिसके कारण हमलोग पुलिस से बचने और अपने घर का खर्च चलाने के लिए आधी रात को ही सब्जियां तोड़ने को मजबूर हैं.



पुलिस पिटाई का किसानों में खौफ !
गौरतलब है कि एक पखवाड़ा पूर्व ही सब्जी बेचकर लौटने के दौरान किसानों की बेरहमी से पिटाई की गई थी. इसके विरोध में किसानों ने सड़क जाम कर आगजनी भी की थी.  जिसके बाद पुलिस ने लहेरी थाना में 53 नामजद समेत सैकड़ो किसानों के ऊपर केस दर्ज कर दिया था.

53 किसानों पर दर्ज किए गए हैं केस

किसान संतु महतो, ओमप्रकाश महतो, शशि कुमार समेत अन्य का कहना है कि अगर पुलिस प्रशासन द्वारा जल्द ही केस वापस नहीं लिया तो हमलोग आंदोलन करेंगे. फिलहाल 53 नामजद व सैकड़ों अज्ञात किसानों के ऊपर दर्ज केस को वापस लेने की मांग की जा रही है.

ये भी पढ़ें


कोरोना संक्रमण का बढ़ा दायरा, अब पटना के बाहर से ऑफिस आने वालों का होगा कोरोना टेस्ट




Lockdown: मिलने लगे राहत के संकेत! बिहार में ईटों की खुली बिक्री का आदेश जारी

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज