अपना शहर चुनें

States

व्यापम घोटाले में छत्‍तीसगढ़ पुलिस की बड़ी कार्रवाई, नालंदा से आरोपी गिरफ्तार

नालंदा से गिरफ्तार व्यापम केस के आरोपी
नालंदा से गिरफ्तार व्यापम केस के आरोपी

पुलिस ने एक मारुति और कई मोबाइल फोन, डेटा को भी जब्त किया है जिसकी जांच की जा रही है. गिरफ्तार लोगों में मुख्य शातिर नीतीश कुमार है जो अस्थावां के नोआवा गांव का रहने वाला है, जबकि सीजन कुमार और संदीप उर्फ सोनू नवादा जिले के वारसलीगंज थाना क्षेत्र के मिरदीघा गांव का रहने वाला है

  • Share this:
मध्यप्रदेश के बहुचर्चित व्यापमं के तर्ज पर फर्जीवाड़ा करने वाले गिरोह के तार बिहार से जुड़ गए हैं. इस मामले में छतीसगढ़ पुलिस ने नालन्दा और नवादा जिले में छापेमारी की. पुलिस ने छापेमारी के दौरान मुख्य शातिर ठग नीतीश कुमार समेत चार को गिरफ्तार किया है. सभी को गिरफ्तार करने के बाद छतीसगढ़ पुलिस अपने साथ ले गयी है.

नर्सिंग में एडमिशन के नाम पर होना था फर्जीवाड़ा

बताया जाता है कि छतीसगढ़ में व्यवसायिक परीक्षा मंडल यानि व्यापम के नाम का उपयोग कर बीएससी नर्सिंग में प्रवेश दिलाने के नाम पर करोड़ों की ठगी छात्रों से कर रहे थे. जब इस बात की जानकारी संस्थान को लगी तो वहां के अधिकारियों ने रायपुर में अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया. छतीसगढ़ के डीआईजी और एसपी ने इस मामले को गम्भीरता से लिया. पुलिस की टीम ने मोबाइल सर्विलान्स के आधार पर सबसे पहले नवादा जिले के वारसलीगंज से दो लोगों को गिरफ्तार किया उसके बाद नालन्दा के अस्थावां थाना क्षेत्र के नोआवा गांव में छापेमारी कर मुख्य शातिर नीतीश कुमार को गिरफ्तार कर लिया.



मोबाइल, डेटा समेत कई चीजें जब्त
इस दौरान पुलिस ने एक मारुति और कई मोबाइल फोन, डेटा को भी जब्त किया है जिसकी जांच की जा रही है. गिरफ्तार लोगों में मुख्य शातिर नीतीश कुमार है जो अस्थावां के नोआवा गांव का रहने वाला है, जबकि सीजन कुमार और संदीप उर्फ सोनू नवादा जिले के वारसलीगंज थाना क्षेत्र के मिरदीघा गांव का रहने वाला है. साइट को हैक करने वाला शातिर सोनू कुमार अभी भी पुलिस पकड़ से बाहर है. पुलिस के मुताबिक वो भी नालन्दा के अस्थावां थाना क्षेत्र के नोआवा गांव का रहने वाला है. पुलिस की इस कार्रवाई से पूरे इलाके में लोग अचंभित हैं.

रिपोर्ट- अभिषेक कुमार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज