थाने में मिला JDU के दलित नेता का शव, पूछताछ के लिए ले गई थी पुलिस

बिहार में सत्ताधारी दल जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के एक स्थानीय दलित नेता का शव थाने में लटका हुआ मिला है. मामला सीएम नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा का है.

News18 Bihar
Updated: July 12, 2019, 11:14 PM IST
थाने में मिला JDU के दलित नेता का शव, पूछताछ के लिए ले गई थी पुलिस
मामला बिहार के सीएम नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा का है. गांव वालों का आरोप है कि दलित नेता ने पुलिस प्रताड़ना की वजह से आत्महत्या की है.
News18 Bihar
Updated: July 12, 2019, 11:14 PM IST
बिहार में सत्ताधारी दल जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के एक स्थानीय दलित नेता का शव थाने में लटका हुआ मिला है. मामला सीएम नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा का है. नेता को पुलिस पूछताछ के लिए थाने लेकर गई थी. मामले में तीन पुलिस वालों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

सूत्रों के मुताबिक गणेश रविदास नाम के इस नेता का शव गुरुवार रात को थाने के टॉयलेट की छत से लटका हुआ मिला. रविदास पार्टी की महादलित सेल के ब्लॉक अध्यक्ष थे. पुलिस ने उन्हें एक लड़की के अपहरण के सिलसिले में पूछताछ के लिए उठाया था. हालांकि रविदास का नाम इस अपहरण के आरोपियों में नहीं था.



शुक्रवार को जैसे ही रविवास की मौत की खबर फैली उनके गांव वालों ने पुलिस स्टेशन के पास प्रदर्शन शुरू कर दिया. गांववालों ने पत्थरबाजी भी की जिसमें कुछ पुलिसवालों के घायल होने की भी खबर है.

'पुलिस ने किया प्रताड़ित'

गांव वालों का आरोप है कि रविदास ने पुलिस प्रताड़ना की वजह से आत्महत्या की है. कुछ गांव वालों का कहना है कि उन्होंने रविदास के शव पर चोट के निशान भी देखे हैं.

गांव वालों का कहना है कि रविदास ने उस लड़की की प्रेम विवाह में मदद की थी जिसकी वजह से लड़की के पिता में गुस्सा भर गया था. गांव वालों के मुताबिक लड़की के पिता और पुलिस में सांठगांठ है जिसकी वजह से रविदास पर दबाव बनाया जा रहा था. शादी के बाद से लड़ी लापता है.

पुलिसवालों पर कार्रवाई
Loading...

घटना पर बवाल मचने के बाद डीआईजी राजेश कुमार मौके पर पहुंचने और मौके का जायजा लेकर माहौल शांत करने की कोशिश की. मामले में थानाध्यक्ष समेत तीन पुलिसवालों को गिरफ्तार कर लिया गया है. इन तीनों के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज कर ली गई है.

ये भी पढ़ें:

मुंगेर में अंधविश्वास ने ली 14 वर्षीय बेटी की जान, जानें वजह

रामचंद्र पासवान: ऐसे हुई थी चुनावी राजनीति में एंट्री
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...