बिहार: सातवें चरण में 62 दागी तो 57 करोड़पति, बिहारी बाबू के पास 193 करोड़ की संपत्ति

बिहार इलेक्शन वॉच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्मस (एडीआर) की संयुक्त रिपोर्ट में इसका खुलासा हुआ है.

Vijay jha | News18 Bihar
Updated: May 14, 2019, 2:52 PM IST
बिहार: सातवें चरण में 62 दागी तो 57 करोड़पति, बिहारी बाबू के पास 193 करोड़ की संपत्ति
शत्रुघ्न सिन्हा (फाइल फोटो)
Vijay jha | News18 Bihar
Updated: May 14, 2019, 2:52 PM IST
लोकसभा चुनाव के लिए बिहार में सातवें चरण के चुनाव के तहत पटना साहिब, पाटलिपुत्र, आरा, बक्सर, सासाराम, काराकाट, नालंदा और जहानाबाद में 19 मई को वोट डाले जाएंगे. इसके लिए कुल 157 उम्मीदवार मैदान में हैं, लेकिन हैरत करने वाली बात यह है कि इनमें 62 ऐसे हैं, जिनपर आपराधिक मामले दर्ज हैं. यह खुलासा 157 में 153 उम्मीदवारों के एफिडेविट के विश्लेषण के बाद हुआ है. इसमें यह भी सामने आया है कि इन 62 में से 26 (17 प्रतिशत ) ऐसे हैं, जिनपर गंभीर अपराधिक धाराओं में केस दर्ज है.

बिहार इलेक्शन वॉच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्मस (एडीआर) की संयुक्त रिपोर्ट में इसका खुलासा हुआ है. इनमें निर्दलीय छह, जेडीयू, बीजेपी और बीएसपी के दो-दो, आरजेडी और सीपीआईएमएल के तीन-तीन और कांग्रेस के एक प्रत्याशी ने अपने खिलाफ आपराधिक मामलों की जानकारी दी है.



बता दें कि सासाराम से बीजेपी प्रत्याशी छेदी पासवान और अन्य तीन प्रत्याशियों के एफिडेविट स्पष्ट नहीं होने के कारण उन्हें इस विश्लेषण में नहीं शामिल किया गया है. इसके अनुसार 57 उम्मीदवारों की संपत्ति एक करोड़ और इससे अधिक है.

सबसे अधिक तीन संपत्ति वाले उम्मीदवारों में पाटलिपुत्र से निर्दलीय उम्मीदवार रमेश कुमार शर्मा के पास 1107 करोड़, दूसरे नंबर पर पटना साहिब से कांग्रेस प्रत्याशी शत्रुघ्न सिन्हा के पास 193 करोड़ और तीसरे नंबर पर जहानाबाद से राजनीतिक विकल्प पार्टी के अरविंद कुमार के पास 91 करोड़ की संपत्ति है.

सबसे कम संपत्ति वाले उम्मीदवार में नालंदा में निर्दलीय उम्मीदवार सुधीर कुमार के पास कुल 21 हजार, पटना साहिब से एसयूसीआइ के अनामिका कुमारी के  पास 24 हजार  व नालंदा में भारतीय मोमिन फ्रंट प्रत्याशी कुमार हरिचरण सिंह यादव के पास  36 हजार की संपत्ति है.


153 उम्मीदवारों में 67 ने अपनी शैक्षणिक योग्यता पांचवीं से 12वीं पास बतायी है. 76 उम्मीदवार स्नातक और उससे ऊपर तक की पढ़ाई की है. आठ उम्मीदवार साक्षर और दो उम्मीदवार साक्षर नहीं हैं. चुनाव में 97 उम्मीदवारों की आयु 25 से 50 साल, जबकि 56 उम्मीदवार 51 से 80 साल के बीच के हैं.
Loading...

ये भी पढ़ें- गिरिराज सिंह के निशाने पर कमल हासन, बोले- जिस थाली में खाते हैं, उसी में छेद करते हैं

ये भी पढ़ें- JDU के इस नेता ने नवीन पटनायक और जगन मोहन रेड्डी को दिया साथ आने न्योता, जानें वजह
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...