अपना शहर चुनें

States

बिहारशरीफ अस्पताल प्रशासन की लापरवाही, यहां मांस खाते नजर आए कुत्ते

प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

कुत्ते करीब 15 मिनट तक मांस के टुकड़े को काफी देर तक नोच नोच कर खाता रहा. मगर मांस के टुकड़े खा रहे कुत्ते को किसी भी अस्पताल के कर्मियों ने भगाने की जहमत नहीं उठाई.

  • Share this:
नालंदा (Nalanda) जिले में बिहारशरीफ (Bihar Sharif) सदर अस्पताल अपने कारनामों के कारण हमेशा खबर की सुर्खियों में बना रहा है. मगर यह सुर्खियां अच्छे कामों के लिए नहींं, बल्कि खामियों के कारण बनता रहा है. बुधवार की देर शाम अस्पताल के एसएनसीयू के पास कुत्ता मांस के टुकड़े को खाते हुए दिखाई दिया.

कुत्ते करीब 15 मिनट तक मांस के टुकड़े को काफी देर तक नोच नोच कर खाता रहा. मगर मांस के टुकड़े खा रहे कुत्ते को किसी भी अस्पताल के कर्मियों ने भगाने की जहमत नहीं उठाई. कहने को तो अस्पताल में 24 घंटे गार्ड की ड्यूटी रहती है,  मगर कुत्ते के द्वारा मांस का टुकड़े खाते वक्त लोग सिर्फ तमाशा देखने में जुटे थे.

मीडिया द्वारा इस बात की जानकारी अस्पताल प्रबंधक को मिली तो पहले तो मामले से पल्ला झाड़ने चाहा मगर जब वीडियो दिखाई गई तो वह भी थोड़ी ही देर के लिए सकते में आ गए. कुत्ता पूरा मांस का टुकड़ा खा गया. ऐसे में सवाल यह उठता है कि अस्पताल कैंपस में मांस का टुकड़ा कहां से आया?



वहीं, अस्पताल कैंपस में मौजूद मरीज के परिजनों ने बताया कि करीब 15 मिनट तक कुत्ता मांस का टुकड़ा खाता रहा. देखने में लग रहा था कि कोई बच्चा का भूर्ण या प्लेसेंटा था.
इस मामले में अस्पताल के उपाधीक्षक डॉ कृष्णा ने बताया कि इस मामले में जो भी साक्ष्य है, उसकी जांच कराई जाएगी कि यह भ्रूण है या प्लेसेंटा (गर्भनाल), अगर यह वाकई में भूर्ण है तो अस्पताल कर्मियों पर कार्रवाई की जाएगी.

ये भी पढ़ें-
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज