अपना शहर चुनें

States

बच्चा चोरी से नाराज लोगों ने पुलिस पर किया जमकर पथराव, जवाब में फायरिंग

नालंदा में उपद्रव के बाद लोगों को खदेड़ती पुलिस
नालंदा में उपद्रव के बाद लोगों को खदेड़ती पुलिस

बात बढ़ती देख हिलसा डीएसपी मोहम्मद मोत्ताफिक अहमद भारी संख्या में पुलिस बलों के साथ मौके पर कैम्प किये हुए हैं.

  • Share this:
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा में लोगों ने जमकर उत्पात मचाया है. दरअसल शुक्रवार की रात इस्लामपुर के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र से एक नवजात की चोरी हो गई. नवजात की चोरी के बाद उसके परिजनों ने हंगामा शुरू कर दिया.

पुलिस के रवैये से उग्र हुए लोग

बच्चा चोरी की घटना से नाराज लोगों ने सड़क जाम करते हुए आगजनी की. जब पुलिस लोगों के समझाने के लिए पहुंची तो उग्र हुए लोगों ने पुलिस पर भी पथराव कर दिया. इसके बाद पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की और लोगों को नियंत्रित करने के लिए तीन राउंड फायरिंग की. बात बढ़ती देख हिलसा डीएसपी मोहम्मद मोत्ताफिक अहमद भारी संख्या में पुलिस बलों के साथ मौके पर कैम्प किये हुए हैं.



सीसीटीवी के सहारे चल रही खोज
पुलिस सीसीटीवी फुटेज के आधार पर बच्चों की खोज में लगी है. दरअसल इस्लामपुर थाना इलाके के बौरी सराय निवासी मो महबूब की पत्नी आमना खातून का बीती रात डिलिवरी हुआ था. रात करीब तीन बजे एक सुनियोजित तरीके से बच्ची को चुरा लिया गया. आमना का आरोप है कि अस्पताल की एक नर्स ने ही इस घटना को अंजाम दिया है और जिगर के टुकड़े की चोरी करवा दी.

 



नर्स पर लगा आरोप

महिला ने नर्स के ऊपर नाजायज राशि भी वसूलने का आरोप लगाया है. सबसे बड़ी बात यह है कि इस महिला का यह पहला बच्चा था. इधर ड्यूटी पर तैनात प्रभारी डॉ प्रभाकर का कहना है कि इसके साथ एक अन्य महिला थी, जिसने नर्स को कहा की मैं इनके साथ हूं और फिर महिला की सेवा करने लगी. रात करीब तीन बजकर 20 मिनट में फिर बच्चे को भाप दिलवाने का बहाना बनाकर निकली और फरार हो गई.

मामला चाहे जो भी हो मगर ड्यूटी पर तैनात डाक्टर और सुरक्षाकर्मियों की मौजूदगी में नवजात की चोरी हो जाना अस्पताल की कुव्यवस्था की पोल जरूर खोल कर रख दिया है.

रिपोर्ट- अभिषेक कुमार

ये भी पढ़ें:

गैंगरेप के बाद FIR के लिए 5 दिन तक भटकती रही पीड़िता

पुणे हादसा: बिहार के एक ही गांव के ही रहने वाले थे 15 मृतक
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज