Home /News /bihar /

rcp singh resigns from jdu nodaa

आरसीपी सिंह ने जदयू की सदस्यता छोड़ी, साजिश का आरोप, नया संगठन बनाने का संकेत

आरसीपी सिंह ने जदयू से दिया इस्तीफा.

आरसीपी सिंह ने जदयू से दिया इस्तीफा.

Bihar Politics: इस्तीफे की घोषणा कर आरसीपी सिंह ने कहा कि 2019 के चुनाव में हमने एनडीए गठबंधन को शानदार सफलता दिलाई. 40 में 39 सीटों पर विजय प्राप्त की. मगर 2020 में क्या हुआ? 2020 में पार्टी की क्या गत हो गई? पार्टी में संगठन नाम की कोई चीज नहीं रह गई है. हमारे कार्यकाल में हमने जिला अध्यक्ष बनाया, प्रखंड अध्यक्ष बनाया और यहां तक कि बूथ स्तर तक पार्टी को ले गए मगर अभी के जो लोग संगठन में हैं, वे पटना में रहते हैं और महज गणेश परिक्रमा करते हैं.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

आरसीपी ने कहा 'मीडिया के माध्यम से इस्तीफे की घोषणा करता हूं. तुरंत पार्टी को पत्र भी भेज दूंगा.'
आरसीपी सिंह का दुख: मुझसे व्यक्तिगत रूप से पूछा भी जा सकता था. मगर पार्टी ने ऐसा नहीं किया.
आरसीपी का आरोप: अभी जो लोग संगठन में हैं, वे पटना में रहते हैं और महज गणेश परिक्रमा करते हैं.
टिकट काटे जाने का रोष: कोई कटसी भी नहीं निभाई यह कहने की कि आपका टिकट काटा जा रहा है.

नालंदा. जदयू से बड़ी खबर सामने आ रही है. जदयू के वरिष्ठ नेता ने पार्टी की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने पार्टी के कुछ लोगों पर साजिश का आरोप लगाते हुए नया संगठन खड़ा करने का संकेत दिया है.

आरसीपी सिंह ने इस्तीफा देने के बाद न्यूज18 से कहा कि मैंने सारी बातों पर सोच-विचार कर फैसला किया है. फिलहाल मैं मीडिया के माध्यम से इस्तीफा देने की घोषणा करता हूं, इसके तुरंत बाद में पार्टी को पत्र भी भेज दूंगा. मैंने पिछले कई महीनों से देखा है कि पार्टी में अब कुछ नहीं बच गया है. पार्टी में एक कार्यक्रम तक नहीं हो रहा. पिछला कार्यक्रम मैंने पिछले वर्ष 4 जुलाई को किया था. पार्टी कार्यकर्ताओं का क्या हाल बना कर रखा गया. आरसीपी सिंह ने कहा कि बिना कुछ सोचे-समझे पार्टी ने मुझे पत्र भेज दिया, मुझसे व्यक्तिगत रूप से पूछा भी जा सकता था. मगर पार्टी ने ऐसा नहीं किया.

पार्टी में गणेश परिक्रमा

आरसीपी सिंह ने कहा कि 2019 के चुनाव में हमने एनडीए गठबंधन को शानदार सफलता दिलाई. 40 में 39 सीटों पर विजय प्राप्त की. मगर 2020 में क्या हुआ? 2020 में पार्टी की क्या गत हो गई? पार्टी में संगठन नाम की कोई चीज नहीं रह गई है. हमारे कार्यकाल में हमने जिला अध्यक्ष बनाया, प्रखंड अध्यक्ष बनाया और यहां तक कि बूथ स्तर तक पार्टी को ले गए मगर अभी के जो लोग संगठन में हैं, वे पटना में रहते हैं और महज गणेश परिक्रमा करते हैं.

बोले आरसीपी- जदयू डूबता जहाज

आरसीपी सिंह ने कहा, ‘मेरे खिलाफ ये सभी आरोप कुछ लोगों द्वारा एक साजिश के तहत लगाए गए हैं, जो मेरी बढ़ती लोकप्रियता से डरते थे.’ उन्होंने कहा- ‘मैं तत्काल प्रभाव से इस्तीफा देता हूं. जदयू में अब क्या बचा है? जदयू डूबता जहाज है. जदयू का झोला लेकर मैं क्या करूंगा?

कटसी भी नहीं निभाई

आरसीपी सिंह ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का नाम लिए बिना कहा कि राज्यसभा टिकट काटे जाने से पहले उन्होंने बात तक नहीं की. कोई कटसी भी नहीं निभाई यह कहने की कि आपका टिकट काटा जा रहा है.

देखें आरसीपी सिंह का बयान

नियम सब पर लागू

आरसीपी सिंह ने कहा ‘बार-बार यह कहा जा रहा था कि राज्यसभा में आरसीपी सिंह के 2term हो चुके हैं. तो मैं पूछता हूं कि यह नियम तो और लोगों पर भी लागू होता है. सीएम नीतीश का नाम लिए बिना उन्होंने कहा कि खुद कितने टाइम से रह रहे हैं. नियम तो सभी पर बराबर लागू होगा.’

Tags: RCP Singh

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर