अपना शहर चुनें

States

नालन्दा में क्लिनिक में घुसकर ग्रामीण डॉक्टर की हत्या, दो कम्पाउंडर को भी मारा चाकू

बिहार के नालंदा में हुई हत्या की घटना के बाद अस्पताल में जमा भीड़
बिहार के नालंदा में हुई हत्या की घटना के बाद अस्पताल में जमा भीड़

Murder In Nalanada: बिहार के नालंदा में हुई हत्या की इस घटना की वजह मरीज को लेकर पूर्व से चला आ रहा विवाद बताया जा रहा है. इस घटना के बाद लोगों ने आरोपी की भी पिटाई कर दी.

  • Share this:
नालंदा. बिहार के नालन्दा में अपराधियों ने एक ग्रामीण चिकित्सक (Doctor) की चाकू घोंपकर जहां हत्या (Murder In Nalanda) कर दी वहीं इस हमले में दो कंपाउंडर भी जख्मी हो गए. घटना जिले के दीपनगर थाना क्षेत्र की है जहां शनिवार की देर शाम अपराधियों ने इस घटना को अंजाम दिया. मृतक की पहचान नगमा गांव निवासी 35 वर्षीय विजय शर्मा के रूप में हुई है वहीं जख्मी कंपाउंडर संतोष कुमार और राहुल कुमार को इलाज के लिए नाजुक हालत में सदर अस्पताल बिहारशरीफ लाया गया जहां से डॉक्टरों ने संतोष को पटना रेफर कर दिया जबकि एक का सदर अस्पताल बिहारशरीफ में इलाज चल रहा है.

घटना के बाद आरोपी की जमकर धुनाई

इधर घटना को अंजाम देकर भाग रहे बदमाश सन्नी को ग्रामीणों ने पकड़ लिया और उसकी जमकर धुनाई करने के बाद पुलिस के हवाले कर दिया. बताया जाता है कि विजय शर्मा आरएमपी चिकित्सक थे जो दीपनगर बाजार में वर्षों से क्लिनिक चला रहे थे. जख्मी कंपाउंडर ने बताया कि करीब एक माह से श्रीरामपुर गांव निवासी सन्नी कुमार अपने चाचा का इलाज करा रहा था. शाम में बदमाश अपने सहयोगियों के साथ क्लनिक आ गया और बीमारी ठीक नहीं करने का आरोप लगा डॉक्टर से झगड़ा करने लगा. इसके बाद बदमाश ने डॉक्टर को चाकू गोदकर जख्मी कर दिया. बीच-बचाव करने गए दो कर्मियों पर भी उसने चाकू से वार किया.



आक्रोशित ग्रामीणों ने अस्पताल में जमकर किया हंगामा
घटना के बाद स्थानीय लोगों के सहयोग से तीनों को इलाज के लिए सदर अस्पताल लाया गया, जहां डॉक्टर ने एक को मृत घोषित कर दिया. घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने सदर अस्पताल बिहारशरीफ में घण्टो हंगामा किया और मौत का बदला मौत से लेने की बात कह आरोपी को अस्पताल से छुड़ाने की काफी प्रयास किया जिसके बाद अस्पताल में मौजूद एसपी नीलेश कुमार ने अस्पताल को चारों ओर से सुरक्षा कड़ी कर दी, फिर भी हंगामा कर रहे ग्रामीणों ने अस्पताल की दरवाजे का शीशा को क्षतिग्रस्त कर दिया. लोग शव को बिना पोस्टमार्टम कराये रूम से वाहर निकाल कर पुलिस पर अपराधियों को सरंक्षण देने का आरोप लगा हंगामा करते रहे. थानाध्यक्ष मुश्ताक अहमद ने बताया कि पुलिस फिलहाल इस घटना की जांच में जुट गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज