लाइव टीवी
Elec-widget

नालंदा में 14 करोड़ की लागत से लगेगा सोलर प्लांट, सीएम ने किया स्थल का निरीक्षण

News18 Bihar
Updated: November 26, 2019, 3:44 PM IST
नालंदा में 14 करोड़ की लागत से लगेगा सोलर प्लांट, सीएम ने किया स्थल का निरीक्षण
नालंदा में सोलर प्लांट के लिए स्थल का निरीक्षण करते सीएम नीतीश कुमार

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने नालंदा (Nalanda) में कहा कि जलवायु परिवर्तन के कारण वर्षा सही ढंग से नहीं हो रही है और कोयला का उत्पादन भी धीरे-धीरे कम होते जा रहा है.

  • Share this:
नालंदा. बिहार के नालंदा (Nalanda) में 14 करोड़ की लागत से दो मेगावाट का सोलर प्लांट (Solar Plant) लगाया जाएगा. मंगलवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने अक्षय ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए बिहारशरीफ स्मार्ट सिटी (Smart City) शहर के हिरण्य पर्वत पर 13.86 करोड़ की लागत से लगने वाले इस प्लांट के स्थल का भी जायजा लिया. इस दौरान सीएम ने जल्द से जल्द सोलर प्लांट (Solar Plant) लगाने के लिए अधिकारियों को दिशा निर्देश जारी किया.

सरकारी भवनों के उपर भी लगेगा सौर उर्जा प्लेट

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि जलवायु परिवर्तन के कारण वर्षा सही ढंग से नहीं हो रही है और कोयला का उत्पादन भी धीरे-धीरे कम होते जा रहा है. इसका नतीजा है कि लोगों को पानी व कोयला से होने वाले बिजली की उत्पादन पर असर पड़ेगा. सीएम ने कहा कि हमलोगों ने फैसला लिया है कि सभी सरकारी भवनों के ऊपर सौर ऊर्जा प्लेट लगाया जायेंगे और उससे सरकारी कार्य निपटाया जायेगा. इतना नही अधिकांश सरकारी ऊंचे स्थलों पर सौर प्लेट लगाकर ऊर्जा लिया जायेगा और उसे खपत किया जायेगा.

सीएम के निरीक्षण से मचा हड़कंप

उन्होंने बताया कि हिरण्य पर्वत पर सौर प्लेट लगाने की योजना चल रही है और बहुत जल्द ही इस पर काम भी शुरू कर दिया जायेगा. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की आगमन की सूचना पर अधिकारियों में हड़कंप मच गया. बिजली विभाग के अधिकारियों और कर्मियों द्वारा हिरण्य पर्वत पर खराब पड़ी स्ट्रीट लाइट को खोलकर हटाने व जर्जर तारों की मरम्मत करने में जुट गये.

राजगीर महोत्सव में भाग लेने के बाद पहुंचे थे सीएम

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने तीन दिवसीय राजगीर महोत्सव में भाग लेने के बाद सुबह राजगीर में परिभ्रमण  किया और बिहारशरीफ हिरण्य पर्वत पर आने की इच्छा जाहिर कर दी. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार करीब एक घण्टे तक हिरण्य पर्वत पर वहां की हर चीज को करीब से देखा और सुना. इस दौरान कई जगहों पर अधिकारियों को दिशा-निर्देश भी देते रहे और कहा कि इसकी सौंदर्यीकरण और हरियाली के लिए भी कदम उठाया जाय. उन्होंने फिर से कहा कि जल, जीवन, हरियाली के तहत पहाड़ों को सौंदर्यीकरण करने के साथ साथ, पहाड़ों पर वृक्ष लगाने की काम भी किया जा रहा है ताकि हरियाली बढ़ाया जा सके.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नालंदा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 26, 2019, 3:42 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...