गिरिराज का चिराग पर निशाना- नीतीश का विरोध क्यों, कांग्रेस और आरजेडी के खिलाफ भी कुछ बोलें

नवादा में गिरिराज सिंह
नवादा में गिरिराज सिंह

गिरिराज सिंह (Giriraj Singh) ने कहा कि महागठबंधन (Grand alliance) में भाकपा माले (CPI-ML) गर्दन काटती है तो कांग्रेस (Congress) ने वैसे नेताओं को टिकट दिया है जो भारत को ही काटने की बात करते हैं और जिनके संबंध जिन्ना से रहे हैं और जिनके आइकॉन जिन्ना रहे हैं.

  • Share this:
नवादा. भाजपा नेता व केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह (Giriraj Singh) आज चुनाव प्रचार के लिए नवादा पहुंचे जहां वारसलीगंज विधानसभा क्षेत्र के भाजपा के प्रत्याशी अरुणा देवी के पक्ष में वोट अपील की. लंबे समय के बाद शुक्रवार को  अपने पुराने संसदीय क्षेत्र में  उन्होंने रोड शो के दौरान लोगों से समर्थन मांगा और महागठबंधन पर जमकर निशाना साधा. इस दौरान आरजेडी, कांग्रेस के साथ वामपंथी दलों (RJD, Congress, Left parties) के गठजोड़ को बिहार के खिलाफ साजिश करार दिया. उन्होंने चिराग पासवान (Chirag Paswan) को भी अपने निशाने पर लेते हुए कहा कि वह तेजस्वी और कांग्रेस के खिलाफ क्यों नहीं बोलते.

उन्होंने महागठबंधन में शामिल भाकपा माले (CPI-ML) के साथ आरजेडी के नए गठबंधन को निशाने पर लेते हुए माले को मुड़कटवा पार्टी बताया. उन्होंने कहा कि ये लोग फिर से वापस आये  तो बिहार में फिर से वही नरसंहार का दौर आ जाएगा जो जंगल राज में था.







गिरिराज सिंह ने कहा कि महागठबंधन में माले गर्दन काटती है तो कांग्रेस ने वैसे नेताओं को टिकट दिया है जो भारत को ही काटने की बात करते हैं और जिनके संबंध जिन्ना से रहे हैं और जिनके आइकॉन जिन्ना रहे हैं.  कांग्रेस ने दरभंगा के जाले से उसी उस्मानी को टिकट दिया. इनके स्टार प्रचारक राहुल या तेजस्वी नहीं होंगे बल्कि शरजिल इमाम जैसे लोग होंगे जो भारत के चिकेन नेक को काटने की बात करते हैं.
उन्होंने तेजस्वी यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि वह कहते है कि अगर उनकी सरकार बानी तो 10 लाख नौकरियां युवाओं को देंगे पहले कैबिनेट की मीटिंग में पास कर देंगे. अगर आंकड़े की बात करते हैं तो उनके पिता लालू यादव ने अपने पूरे कार्यकाल के दौरान 94000 लोगों को नौकरी दी, जबकि नीतीश कुमार ने अपने कार्यकाल के दौरान कुल 700000 लोगों को नौकरियां दीं. इससे अब तक समझा जा सकता है कि कौन कितनी नौकरियां दे सकता है.

गिरिराज सिंह ने कहा कि नीतीश सरकार के साथ वो 20 महीने तक सरकार में थे. वह बताएं कि इस 20 माह में उन्होंने कितनी नौकरियों का प्रस्ताव नीतीश कुमार के पास भेजा जबकि एक दर्जन से ज्यादा विभाग उनके पास था. इसलिए चुनावी सभा में लोगों को बरगलाने का काम सिर्फ किया जा रहा है कि पहले ही कैबिनेट मीटिंग में 10 लाख नौकरियां बाटेंगे.

चिराग पासवान के द्वारा मोदी के हनुमान वाले बयान पर बीजेपी समेत गिरिराज सिंह ने कहा कि रामविलास पासवान परिवार से उनके बेहतर संबंध रहे हैं.  चिराग से भी बेहतर संबंध है मगर इसका क्या फायदा बिहार में वह नीतीश कुमार का विरोध करते हैं. उनकी जुबान से तेजस्वी के खिलाफ विरोध की बात क्यों नहीं निकलती है. कांग्रेस के खिलाफ उनका विरोध क्यों नहीं निकलता. इसलिए वह नीति स्पष्ट करें.

वहीं एलजेपी के साथ चुनाव के बाद समर्थन पर गिरिराज सिंह  ने स्पष्ट कहा कि उनका गठबंधन सिर्फ सिर्फ जदयू, हम और वीआईपी से है और स्पष्ट बहुमत से वह सरकार बनाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज