बिहार चुनाव: नड्डा ने सुनाई 'जंगल राज' की कहानी, बोले- तब बजरंगबली को याद करते थे लोग

नवादा के हिसुआ में भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा.
नवादा के हिसुआ में भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा.

जेपी नड्डा (JP Nadda) ने कहा कि जो आरजेडी 15 साल तक बिहार में तांडव करती रही वह पीएम मोदी (PM Modi) और सीएम नीतीश (CM Nitish) के आने के बाद आजकल विकास की भाषा बोलने लगी है.

  • Share this:
नवादा. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (BJP national president JP Nadda) ने चुनावी सभा को संबोधित करते हुए लालू-राबड़ी शासनकाल के बारे में कहा कि एक दौर ऐसा भी था जब हमलोग बजरंगबली को याद करते थे. सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने इस परिस्थिति को बदल डाला और अब लोग अमन-चैन से रह रहे हैं. शुक्रवार को नवादा (Nawada) में हिसुआ विधानसभा के प्रत्याशी अनिल सिंह के पक्ष में सभा को संबोधित करते हुए लालू के जंगलराज पर जमकर हमला बोला और कहा कि 15 साल के जंगल राज में बिहार की परिस्थिति क्या थी मुझसे बेहतर कोई नहीं जान सकता है.

भाजपा अध्यक्ष ने उस दौर को याद करते हुए कहा कि वह भी एक दौर था जब गया से पटना लोग लौटते थे तो बजरंगबली को याद किया जाता था और उनसे दुआ मांगी जाती थी कि सही सलामत पटना पहुंच गए तो 1 किलो लड्डू चढ़ाएंगे.  उन्होंने कहा कि उनके पिता रांची यूनिवर्सिटी में चांसलर थे तब रांची जाने का मौका मिलता था. उसी दौरान सड़क पर निकलने का मौका मिलता था. सड़क की क्या स्थिति से यह किसी से छिपी नहीं थी. पटना से रांची लौटने में देर रात हो जाया करती थी.

जेपी नड्डा ने कहा कि लालू यादव ने पूरे बिहार को चारागाह में बदल डाला और तब तक चैन नहीं लिया जब तक बिहार में चारा घोटाला नहीं कर डाला. चरवाहा विद्यालय देने वाले बताएंगे कि बिहार को बदल देना है. जंगल राज की बात सुनाते हुए नड्डा ने कहा कि पटना के डाक बंगला चौराहा 90 के दशक में शाम को ही पूरा माहौल सुनसान हो जाता था. जब डॉक्टर सुबह घर से नाश्ता कर निकलते थे तो उन्हें यह पता नहीं होता था कि रात में घर का खाना नसीब होगा या नहीं.



नड्डा ने कहा कि इंजीनियर को यह मालूम नहीं होता था कि अगर ठेकेदार से हाथ नहीं मिलाएंगे तो वो रोलर के नीचे आ जायेगा. यह पूरा बिहार जानता है जब स्वर्णिम चतुर्भुज का काम हो रहा था तब उस समय देश के उच्च दर्जे के तीन इंजीनियरों की हत्या कर दी गई थी. इसलिए वोट देते समय इन सभी चीजों को जनता याद रखें.
यही नहीं  जेपी नड्डा ने  लालू के उस काल को भी याद दिलाते हुए कहा कि जब बिहार में एक दलित डीएम को मार दिया गया और उसके हत्यारे खुलेआम बिहार में घूमते थे. मोहम्मद शहाबुद्दीन ने जिस पुलिस अफसर पर गोली चलाई थी वह आज के मौजूदा डीजीपी हैं और आज नीतीश सरकार के आने के बाद शहाबुद्दीन जेल में बंद है.

उन्होंने मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि ट्रिपल तलाक, राम मंदिर और अनुच्छेद 370 को खत्म करने जैसे कई काम हुए हैं.  उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा लाए गए बदलावों से भी लोगों को अवगत करवाते हुए कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी के आने के बाद विकास की परिभाषा बदल गई है. अब वोट नोट पर नहीं बल्कि विकास पर मिलता है. इसका असर अब देखने को मिल रहा है.

जेपी नड्डा ने कहा कि जो आरजेडी 15 साल तक तांडव करती रही वह पीएम मोदी और सीएम नीतीश के आने के बाद आजकल विकास की भाषा बोलने लगी है. 15 साल तक बिहार में जंगल राज करने वाले बाप तो बाप, अब बेटा भी विकास की बातें करने लगे हैं जो प्रधानमंत्री मोदी की ही देन है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज