Home /News /bihar /

बिहार पंचायत चुनाव: पटना के बेउर जेल से नामांकन करने नवादा पहुंची सोनी देवी, वापस जाते समय निकले आंसू

बिहार पंचायत चुनाव: पटना के बेउर जेल से नामांकन करने नवादा पहुंची सोनी देवी, वापस जाते समय निकले आंसू

नामांकन के बाद बाहर आते ही सोनी देवी के समर्थकों ने उनको माला पहनाकर उनके समर्थन में नारा लगाना शुरू कर दिया.

नामांकन के बाद बाहर आते ही सोनी देवी के समर्थकों ने उनको माला पहनाकर उनके समर्थन में नारा लगाना शुरू कर दिया.

Bihar Panchayat Election 2021: नवादा सदर प्रखंड कार्यालय में अचानक पुलिस कस्टडी में एक महिला पहुंचती है, जिसे देखकर सभी लोग थोड़े हैरान हो जाते है. हालांकि जब तक लोग कुछ समझ पाते तब तक पुलिस उसे बीडीओ कार्यालय लेकर चली जाती है. थोड़ी देर में यह खुलासा होता है कि वह महिला बेउर जेल से नामांकन करने के लिए नवादा सदर प्रखंड कार्यालय पहुंची थी.

अधिक पढ़ें ...

नवादा. बिहार पंचायत चुनाव (Bihar Panchayat Election 2021) के दौरान अलग-अलग रंग देखने को मिल रहे हैं. एक अनोखी तस्वीर तस्वीर सोमवार को बिहार के नवादा जिले में भी देखने को मिली. दरअसल नवादा सदर प्रखंड (Nawada Sadar Block) कार्यालय में अचानक पुलिस कस्टडी में एक महिला पहुंचती हैं, जिसे देखकर वहां मौजूद लोग हैरान हो जाते है. हालांकि जब तक लोग कुछ समझ पाते तब तक पुलिस उसे बीडीओ कार्यालय लेकर चली जाती है. थोड़ी देर में यह खुलासा होता है कि वह महिला बेउर जेल (Beur Jail) से नामांकन करने के लिए नवादा सदर प्रखंड कार्यालय पहुंची थी. दरअसल सदर प्रखंड के पौरा पंचायत के पूर्व मुखिया पप्पू यादव की पत्नी सोनी देवी आय से अधिक संपत्ति और सरकारी योजनाओं में गबन करने के आरोप में 2018 से जेल में बंद है. आज वह सीधे बेउर जेल से पौरा पंचायत से ही मुखिया पद के लिए नामांकन कराने के लिए पहुंची थी. इस दौरान पटना पुलिस ने सोनी देवी को अपनी कस्टडी में ले रखा था.

नामांकन के दौरान प्रखंड कार्यालय में हर कोई उत्सुकता भरी नजर से सोनी देवी को देख रहा था. इस दौरान सोनी देवी के समर्थक और परिवार के लोग भी वहां मौजूद थे. नामांकन के बाद जैसे ही सोनी देवी वापस जेल जाने के लिए वहां से निकली उनके आंखों से निकलने लगे. हालांकि, वहां मौजूद लोगों ने उन्हें समझाया और चुप कराया. नामांकन के बाद बाहर आते ही सोनी देवी के समर्थकों ने उनको माला पहनाकर उनके समर्थन में नारा लगाना शुरू कर दिया.

जानिए किस मामले में जेल में बंद है सोनी देवी

बताया जाता है कि पूर्व मुखिया पप्पू यादव एवं उनकी पत्नी सोनी देवी के खिलाफ गांव के लोगों ने 10 साल तक मुखिया रहने के बाद भी विकास कार्य नहीं करने और सरकारी राशि का दुरुपयोग कर अकूत संपत्ति बनाने का मामला दर्ज कराया था. इतना ही नहीं दोनों पर सरकारी जमीन पर अवैध रूप से कब्जा करने का भी आरोप था. पटना हाइकोर्ट ने एडीजी सीआईडी को इस मामले की जांच करने का निर्देश दिया था. जांच में आरोप सही पाये जाने पर नवादा नगर थाने में मामला दर्ज हुआ था और उसी प्राथमिकी के बाद मुखिया दंपत्ति को 2018 में 26 सितंबर को उनके घर से गिरफ्तार कर लिया. इस मामले में कई दूसरे लोगों पर भी मामला दर्ज हुआ था.

Tags: Bihar News, Bihar Panchayat Chunaw, Bihar Panchayat Election, Bihar panchayat elections, Nawada news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर